दशहरा-मुहर्रम और दुर्गा पूजा पर योगी सरकार की गाइडलाइन जारी, अब नहीं बजेगा डीजे-लाउडस्पीकर - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

दशहरा-मुहर्रम और दुर्गा पूजा पर योगी सरकार की गाइडलाइन जारी, अब नहीं बजेगा डीजे-लाउडस्पीकर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उच्च स्तरीय बैठक के बाद दशहरा-मुहर्रम और दुर्गा पूजा को लेकर सभी डीएम और एसएसपी के लिए गाइडलाइन्स जारी की है.
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था बरकरार रहे और लोगों के बीच धार्मिक सद्भाव बना रहे। इसे देखते हुए अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुद कमान संभाल ली है। त्यौहारों के दौरान प्रदेश में शांति और सद्भाव कायम रहे, इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों के लिए नई गाइडलाइन जारी की है। प्रदेश सरकार के मुखिया ने दुर्गा पूजा, दशहरा और मोहर्रम के दौरान डीजे और लाउडस्पीकर बनाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इतना ही नहीं योगी आदित्यनाथ ने प्रतिमा विसर्जन और ताजिया जुलूस के लिए अलग-अलग रास्ते बनाने के भी निर्देश दिए हैं।

मोहर्रम, नवरात्र, दुर्गापूजा और दशहरा जैसे बड़े त्यौहारों पर कोई गड़बड़ी न हो इसे देखते हुए मुख्यमंत्री ने राज्य में सुरक्षा के मद्देनजर एक उच्च स्तरीय बैठक की। 16 सितंबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी के मंडल व जिला अफसरों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की थी। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षक को गाइडलाइन्स जारी करते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश में आगामी त्यौहारों के दौरान डीजे और लाउडस्पीकर बजाने पर प्रतिबंध रहेगा। हालांकि, कुछ मामलों में लाउडस्पीकर बजाने की छूट रहेगी। इसके अलावा सीएम योगी ने प्रतिमा विसर्जन करने और ताजिया जुलूस करने के लिए भी अलग-अलग रास्ते बनाने के निर्देश दिए हैं। गाइडलाइन्स में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्गा प्रतिमा और ताजिया की उंचाई को भी निर्धारित किया है।

बैठकों का दौर जारी
मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि अपराधी कोई भी हो उसे बख्शा नहीं जाएगा। तब से लेकर अब तक वह कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर लगातार प्रदेश के वरिष्ठ अधि‍कारियों के साथ बैठक कर रहे हैं। उन्हें दिशा-निर्देश दे रहे हैं। इससे पहले हुई बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ ने सूबे के आला-अफसरों को कानून-व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए रोड मैप तैयार करने का आदेश दिया था।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad