सीरियल अटैक कांडः मुठभेड़ में दो शूटर समेत चार गिरफ्तार, साजिशकर्ता फरार - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

सीरियल अटैक कांडः मुठभेड़ में दो शूटर समेत चार गिरफ्तार, साजिशकर्ता फरार

गाजीपुर। जमानियां कोतवाली के देवरिया खास गांव के सीरियल अटैक कांड में पुलिस को शनिवार की दोपहर बड़ी कामयाबी मिली। मुठभेड़ में दो शूटर समेत चार गिरफ्तार किए गए। उनके कब्जे में मय कारतूस दो नाइन एमएम पिस्तौल, नौ मोबाइल फोन तथा बाइक बरामद हुई। गिरफ्तार अभियुक्तों पुलिस कप्तान सोमेन बर्मा ने मीडिया के सामने पेश किया। बताए कि कार्रवाई के दौरान घटना के दो साजिशकर्ता संतोष राय उर्फ बबलू तथा विनय राय उर्फ पमपम मौका देख कर भागने में  सफल रहे। 

यह मुठभेड़ शहर कोतवाली के अंधऊ तिराहे पर हुई। क्राइम ब्रांच के इंचार्ज टीबी सिंह तथा शहर कोतवाल राजीव कुमार सिंह फरार अपराधियों की धरपकड़ की योजना बना रहे थे। उसी बीच मुखबिर से सूचना मिली कि अकलपुरा(रौजा) में हुई नन्हकू यादव की हत्या के वांछित अपराधी दो बाइक से कहीं जाने वाले हैं। उसके बाद पुलिस टीम ने घेरेबंदी कर वाहनों की जांच शुरू कर दी। दो बाइक से छह सवार आते दिखे। मुखबिर ने उनकी पहचान की। पुलिस टीम हरकत में आई। तब तक आगे चल रही बाइक पर पीछे बैठे युवक ने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया। संयोग ही रहा कि कोई पुलिस कर्मी हताहत नहीं हुआ। 

फायरिंग के वक्त उसकी बाइक का संतुलन बिगड़ गया और पलट गई। तभी पुलिस ने तीन सवारों को धरदबोची। पीछे चल रही बाइक के सवार यह देख बाइक घुमा कर भागने लगे। पुलिस दौड़ा कर उनमें से एक को पकड़ ली। पूछताछ में उन्होंने अपनी पहचान राहुल राय निवासी देवरिया खास, दीपक यादव अड़रिया थाना सुहवल, जुगनू राय उर्फ आशुतोष बेटाबर जमानियां तथा अनिल राय उर्फ टप्पू राय सोनवानी थाना करीमुद्दीनपुर बताई। वह बताए कि संतोष राय उर्फ बबलू तथा विनय राय उर्फ पमपम निवासी देवरिया खास ने उन्हें नन्हकू की हत्या के लिए 50 हजार रुपये की सुपारी दी थी। बतौर अग्रिम दस हजार रुपये भी दिए थे। योजना के मुताबिक नन्हकू तथा उनके भाई अरविंद यादव की हत्या एक साथ की जाए। 

हुआ भी ऐसा ही लेकिन उसमें अरविंद बच गया। पुलिस कप्तान ने बताया कि राहुल राय शातिर अपराधी है। उसके खिलाफ शहर तथा जमानियां कोतवली में हत्या तथा हत्या के प्रयास के कुल छह मामले पहले से ही दर्ज हैं। गिरफ्तारी के वक्त इसी ने पुलिस बल पर फायरिंग की थी। उन्होंने कहा कि चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी बड़ी उपलब्धि है। इसके लिए उन्होंने पुलिस टीम को अपनी ओर से पांच हजार रुपये नकद ईनाम की घोषणा की। मालूम हो कि बीते 19 सितंबर की शाम करीब पौने पांच बजे नन्हकू तथा अरविंद पर अटैक हुआ था। 25 सितंबर की सुबह नन्हकू की इलाज के दौरान बीएचयू ट्रामा सेंटर में मौत हो गई थी।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad