गाजीपुर नगर निकायः दूसरे दिन भी कोई नामांकन नहीं, अरुण सिंह की पत्नी शीला सिंह के लिए खरीदा गया नामांकन पत्र - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर नगर निकायः दूसरे दिन भी कोई नामांकन नहीं, अरुण सिंह की पत्नी शीला सिंह के लिए खरीदा गया नामांकन पत्र

गाजीपुर। नगर निकायों के लिए नामांकन के दूसरे दिन सोमवार को भी कोई नामांकन नहीं हुआ। अलबत्ता, सभी आठ नगर निकायों के चेयरमैन पद के लिए 60 नामांकन पत्र बिके। मुख्य नियंत्रण कक्ष प्रभारी राम सिंह ने यह जानकारी दी। बताए कि चेयरमैन पदों के लिए अब तक कुल 73 नामांकन पत्र बिक चुके हैं। 

इनमें सर्वाधिक 18 जमानियां नगर पालिका के लिए हैं। इसके अलावा गाजीपुर नगर पालिका चार तथा मुहम्मदाबाद नगर पालिका में छह नामांकन पत्र बिके हैं जबकि बहादुरगंज तथा दिलदारनगर नगर पंचायत के लिए 11-11, सादात चार व जंगीपुर नगर पंचायत में नौ नामांकन पत्र खरीदे गए हैं। सैदपुर नगर पंचायत चेयरमैन के लिए अभी तक एक भी नामांकन पत्र नहीं बिका है। इसी तरह सभी नगर निकायों में सभासद पदों के लिए भी 334 नामांकन पत्र बेचे गए हैं। नामांकन की अंतिम तिथि छह नवंबर है। 

गाजीपुर नगर पालिका परिषद के चेयरमैन पद के लिए नामांकन पत्र खरीदने वालों में जिला सहकारी बैंक के पूर्व चेयरमैन अरुण सिंह की पत्नी शीला सिंह भी शामिल हैं। इसको लेकर राजनीतिक हलके में हलचल मच गया है। मालूम हो कि अरुण सिंह गाजीपुर के जनाधार वाले नेताओं में शुमार हैं। पिछले चुनाव में वह भाजपा में थे। गाजीपुर नगर पालिका चेयरमैन पद पर भाजपा की जीत में उनका अहम योगदान था। लोकसभा चुनाव के दौरान वह भाजपा से बगावत कर चुनाव लड़े। फिलहाल वह एक हत्या के मामले में नैनी जेल में निरुद्ध हैं लेकिन उनके समर्थक, कार्यकर्ताओं की फौज नगर निकाय चुनाव को लेकर उत्साहित है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad