गाजीपुर: शिवकन्या का सपा से मोहभंग, होर्डिंग से गायब हुए अखिलेश-मुलायम - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: शिवकन्या का सपा से मोहभंग, होर्डिंग से गायब हुए अखिलेश-मुलायम

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर समाजवादी पार्टी के पूर्व लोकसभा प्रत्‍याशी शिवकन्‍या कुशवाहा के नये साल के होर्डिंग से मुलायम सिंह व अखिलेश यादव का फोटो गायब होना जिले में चर्चा का विषय बना रहा। राजनैतिक जगत में यह कयास लगाया जा रहा था कि शिवकन्‍या कुशवाहा का समाजवादी पार्टी का मोह भंग हो गया है या सपा ने शिवकन्‍या कुशवाहा को बाहर का रास्‍ता दिखा दिया है। शिवकन्‍या कुशवाहा का पहली बार नाम चर्चा में 2014 लोकसभा के कुछ महिने पहले आया था। 

सपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष मुलायम सिंह यादव ने सीटिंग सांसद राधेमोहन सिंह का टिकट काटकर शिवकन्‍या कुशवाहा को गाजीपुर लोकसभा क्षेत्र से सपा का प्रत्‍याशी घोषित कर दिया था। शिवकन्‍या का नाम प्रत्‍याशी के रूप में घोषित होते ही पूरे जिले में हलचल मच गया था। पार्टी के अंदर और बाहर काफी घमासान मचा रहा। शिवकन्‍या कुशवाहा ने काफी दमदारी से चुनाव लड़ीं लेकिन मोदी लहर में वह 32 हजार मतों से मनोज सिन्‍हा से पराजित हो गयी थी। शिवकन्‍या के हार को लेकर सपा में काफी घमासान मच गया था। 

इसकी गाज जिले के दो मंत्रियों पर भी गिरी थी। समाजवादी दंगल में दोनो मंत्रियों को अखिलेश यादव ने मंत्रिमंडल से बर्खास्‍त कर दिया था। इसके बाद शिवकन्‍या कुशवाहा वापस बांदा चली गयी। लगभग चार साल एक बार फिर उनका होर्डिंग शहर के प्रमुख चौराहो पर लगाया गया है। जिसमें उनके पति बाबू सिंह कुशवाहा व जन अधिकार मंच के कार्यकर्ता और पदाधिकारियों का फोटो लगा हुआ है। 

लेकिन मुलायम सिंह और अखिलेश यादव गायब है। इस संदर्भ में जन अधिकार मंच के वरिष्‍ठ नेता व बाबू सिंह कुशवाहा के छोटे भाई शिवचरन कुशवाहा ने बताया कि राजनीति के बदलते परिवेश में सपा से मोह भंग हो गया है। जन अधिकार मंच के झंडे तलें राजनीति का रास्‍ता तय किया जायेगा। समाजवादी पार्टी के जिलाध्‍यक्ष नन्‍हकू यादव ने बताया कि शिवकन्‍या को सपा से निकाला नही गया। वह अपने विवेक से कोई निर्णय लेगीं तो पार्टी को कोई ऐतराज नही है। शिवकन्‍या कुशवाहा के होर्डिंग को लेकर पिछड़ों के राजनीति को लेकर फिर एक बार गर्मा गयी है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad