गाजीपुर: लाइफ लाइन में पहली बार कैंसर के रोगियों का भी इलाज - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: लाइफ लाइन में पहली बार कैंसर के रोगियों का भी इलाज

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने गुरुवार को सिटी रेलवे स्टेशन के पश्चिमी छोर के फुल्लनपुर वाशिंग पिट पर खड़ी लाइफ लाइन एक्सप्रेस ट्रेन का फीता काटकर उद्घाटन करने के बाद कहा कि पहली बार कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी की सुविधा इस व्यवस्था में शामिल की गई है। लाइफ लाइन ट्रेन में चार दिनों में 200 मुंह कैंसर और 108 स्तन कैंसर के मामले पंजीकरण और जांच में सामने आए हैं। दो वर्ष पूर्व जनपद में आई इस व्यवस्था से गाजीपुर के 8 हजार मरीजों को लाभ मिला है। गाजीपुर पहला जिला है जिसे दोबारा इस ट्रेन सेवा का लाभ मिल रहा है। इस ट्रेन के जरिये जिले के हर व्यक्ति के बेहतर इलाज का लगातार प्रयासरत हो रहा है। 

अब तक 10 लाख मरीजों का हो चुका इलाज
सिटी रेलवे स्टेशन पर लाइन लाइन एक्सप्रेस का उद्घाटन करने के बाद रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि 16 जुलाई 1991 को पहली बार एक प्रयोग के तौर पर देश के समाजसेवियों ने एक ट्रेन को अस्पताल के रूप में तैयार कर उससे समाजसेवा को नया अवसर उपलब्ध कराया। इम्पैक्ट इंडिया फाउंडेशन और भारतीय रेलवे के सहयोग से संचालित हो रही इस व्यवस्था ने पिछले 26 वर्षों में देश के ग्रामीण क्षेत्रों दस लाख गरीब मरीजों की सेवा की है। उन्होंने कहा कि लाइफ लाइन एक्सप्रेस दुनिया की पहली मेडिकल ट्रेन है। 

इस अवसर पर मनोज सिन्हा के पहुंचने पर गार्ड आफ आनर से उन्हें सम्मानित किया गया। आदित्य बिड़ला समूह द्वारा जिले के मरीजों के लिए नि:शुल्क व्यवस्था की गयी  है। इस अवसर पर विधायक डा. संगीता बलवंत, जिलाधिकारी के बालाजी, भाजपा जिलाध्यक्ष भानु प्रताप सिंह, सुनील सिंह, नगरपालिका अध्यक्ष सरिता अग्रवाल, विनोद अग्रवाल, शशिकान्त शर्मा भाजपा जिला मीडिया प्रभारी सहित इम्पैक्ट इंडिया फाउंडेशन के चीफ आपरेटिंग आफिसर डा. रजनीश गोर्थ, लाइफ लाइन एक्सप्रेस के प्रोजेक्ट डायरेक्टर डा. याग्निक वजा, मेडिकल आफिसर डा. महकसिक्का, रेलवे व दूर संचार के अधिकारी उपस्थित थे। अध्यक्षता रेल मंडल प्रबंधक राजीव अग्रवाल व संचालन व्यासमुनी राय ने किया।

चिकित्सा व्यवस्था से खिन्न दिखे मनोज सिन्हा
रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा को इस जनपद की बदहाल चिकित्सा व्यवस्था को  लोग जरूर नारागजी है। यही वजह है कि उन्होंने खुलकर इस पर बोला। कहा कि हमारे जनपद में चिकित्सा की व्यवस्था अच्छी नहीं है। परंतु एक अच्छा प्रयास किया गया है। इस व्यवस्था को और बेहतर बनाने के प्रयास किए जाएंगे। भाजपा सरकार सभी वर्गों के बेहतर इलाज के लिए गंभीर है।

25 जनवरी से दो और मिलेगी सचल वैन
रेल राज्य मंत्री एवं संचार राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार मनोज सिन्हा ने सभा के दौरान घोषणा की कि जिले में दो सचल चिकित्सा वैन की संख्या और बढ़ाई जाएगी। कहा कि ग्रामीण स्तर के लिए पूर्व में चलाई गयी सचल चिकित्सा वैन का बेहतर संदेश मिला है। 25 जनवरी से 2 और सचल वैन बढ़ाई जाएगी। उन्होंने बताया कि इस ट्रेन द्वारा अबतक 10 लाख से ज्यादा लोगों का इलाज व लगभग 13300 सफल आपरेशन किया जा चुका है। 

रेल राज्यमंत्री को सौंपा ज्ञापन
उप्र आशाबहु वेलफेयर एसोसिएशन ने गुरुवार को केंद्रीय रेल व संचार राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार मनोज सिन्हा को अपनी मांगों से संबंधित मांगपत्र सौंपा। मांग पत्र के माध्यम से उन्होंने बताया कि एनआरएचएम के आशाओं का पदास्थापना 2005 में की गयी थी और आशाएं निरंतर राष्ट्रीय कार्यक्रमों व प्रदेश के कार्यक्रम में अपने कार्यों का निर्वह्न करती आ रही हैं। लेकिन अभी तक हम लोगों की कोई दैनिक वेतन न तो केंद्र सरकार और न ही राज्य सरकार द्वारा निर्धारित किया गया। हम लोगों को जो पैसा आंशिक तौर पर मिलता है, उसमें भी कटौती कर ली जाती है। सभी ने मनोज सिन्हा से दैनिक वेतन दिलवाने की मांग की है।   

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad