गाजीपुर: शिक्षा व कुंजी है जिससे सारे विकास के ताले खुलते हैं- राजेंद्र बिंद - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: शिक्षा व कुंजी है जिससे सारे विकास के ताले खुलते हैं- राजेंद्र बिंद

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर बिन्द समाज कल्याण संघ की बैठक रविवार को संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र बिन्द की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में नवनिर्वाचित सूरत इकाई की कार्यकार्यकारिणी सदस्यों को संघ का नियुक्ति प्रमाण सौंपा गया। कार्यक्रम में सूरत इकाई के सदस्यों की ओर से एक बड़े से हार पहनाकर स्वागत किया गया। सभा को संबोधित करते हुए संघ के पूर्व अध्यक्ष संस्थापक श्री श्रीनारायण बिन्द ने कहा कि बिन्द समाज कल्याण संघ की स्थापना अपने समाज को सामाजिक और शैक्षिक स्तर से जागरुक करने तथा विकास की मुख्य धारा में लाने के उद्देश्य से किया गया था। 

उन्होंने आगे बोलते हुए कहा कि संघ की सूरत संघ के लोगों में जो कुछ गलतफहमी है उसे हर किसी को आपस में मिल बैठकर दूर करनी चाहिए। उन्होंने समाज के लोगों से कहा कि संघ के अंदर किसी प्रकार का कोई विवाद नहीं है। हम सब लोगों का उद्देश्य अपने समाज को ऊपर लाना है। सभा को बिन्द समाज कल्याण संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र बिन्द ने भी संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने समाज के हर लोगों से आपसी सहयोग से समाज की सेवा करने की अपील करते हुए कहा कि हम सब लोगों की यह नैतिक जिम्मेदारी है कि अपने घर परिवार का विकास करते हुए समाज के विकास के बारे भी कुछ ना कुछ करने के बारे में सोंचे। समाज में शिक्षा का विकास करना तथा हर बच्चे को स्कूल भेजने की जिम्मेदारी हम सब की है। 

हमें देखना चाहिए कि हमारे आस पास समाज का कोई बच्चा स्कूल जाने से वंचित न रह जाए। यदि कोई बच्चा इस तरह का दिखे तो उसके मां बाप को समझा बुझाकर बच्चे को स्कूल भिजवाने की व्यवस्था करनी चाहिए। उन्होंने शिक्षा के महत्व को बताते हुए कहा कि शिक्षा ही वक्ष कुंजी है जिससे विकास के सारे दरवाजे खोले जा सकते हैं। इस अवसर पर उन्होंने बिन्द समाज कल्याण संघ से बगावत कर एक अलग संगठन बनाने वाले डां शेषधर की आलोचना करते हुए कहा कि आज हमारे समाज को ऐसे लोगों से हमेशा सावधान रहना चाहिए जिनका उद्देश्य संघ को कमजोर करना तथा अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा को पूरा करने के लिए लोगों को बरगलाकर एवं दिग्भ्रमित कर नेता बनना ही रहता है। 

समाज सेवा के लिए समर्पण की आश्यकता होती है जिसमें समय, पैसा और सुख सबका त्याग करना पड़ता है। सभा में बिन्द समाज कल्याण संघ की केंद्रीय कार्यकारिणी के कोषाध्यक्ष भीखू बिन्द, सूचनामंत्री रामसेवक केवट, उपाध्यक्ष भगवान सहानी इत्यादी पदाधिकारियों के अतिरिक्त बड़ी संख्या में सूरत बिन्द समाज के लोग उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad