गाजीपुर: भोजपुरी रचनाकार रामबचन शास्त्री अजोर को मिला गाजीपुर गौरव सम्मान - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: भोजपुरी रचनाकार रामबचन शास्त्री अजोर को मिला गाजीपुर गौरव सम्मान

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर साहित्‍य चेतना समाज का 33वां वार्षिक पुरस्‍कार वितरण एवं गाजीपुर गौरव सम्‍मान समारोह नगर के मालगोदाम रोड स्थित अग्रवाल पैलेस में चेतना महोत्‍सव के रूप में मनाया गया। समारोह के मुख्‍य अतिथि जननायक चंद्रशेखर विश्‍वविदृयालय बलिया के कुलपति प्रो. योगेंद्र सिंह थे। अध्‍यक्षता बलिया से आए वरिष्‍ठ रचनाकार डा. जर्नादन राय ने की। विशिष्‍ट अतिथि के रूप में नगर पालिका के पूर्व प्रतिभागी लखनऊ में खंड शिक्षा अधिकारी अजय विक्रम सिंह उपस्थित थे। 

संस्‍था के संस्‍थापक अमरनाथ तिवारी अमर ने अतिथियों का स्‍वागत करते हुए संस्‍था के उद्देश्‍य एवं सम्‍मान पत्र प्रदान किया गया तो पूरा सभागार तालियो की गडगड़ाहट से गूंज उठा। इसके बाद साहित्‍यकार, पत्रकार, अधिवक्‍ता, समाजसेवी, कलाकार, चिकित्‍सक, रंगकर्मी, अध्‍यापक वर्ग के सैकड़ो लोगो ने उन्‍हे माल्‍यार्पण किया। अपने सम्‍मान से अभिभूत जी ने कहा कि सम्‍मान तो मिलते रहते है लेकिन अपने लोगो के बीच अपनो द्वारा कोई सम्‍मान मिलता है तो वह बहुत महत्‍वपूर्ण होता है। उन्‍होने अपना एक भोजपुरी गीत सुनाकर मंत्रमुग्‍ध कर दिया। मुख्‍य अतिथि प्रो. योगेंद्र सिंह ने कहा कि चेतना व्‍यक्ति का निर्माण करती है। 

सूचना विवेक के साथ और चेतना भी विवेक के साथ होनी चाहिए। चेतना जब विवेक के साथ जागृत होती है तब एक जागरूक और सचेत समाज का निर्माण होता है। संस्‍था की गतिविधियों की प्रशंसा करते हुए उन्‍होने कहा कि यह संस्‍था व्‍यक्‍त निर्माण एवं समाज निर्माण में महत्‍वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर रही हे। यदि स्‍थान-स्‍थान पर ऐसी संस्‍थाएं सक्रिय हो जाए तो समाज का काफी भला हो सकता है। इस अवसर पर बीएसडी पब्लिक स्‍कूल रेवतीपुर, गौरीशंकर पब्लिक स्‍कूल न्‍यू होराइजन एकेडमी व ड्रीम्‍स डांस क्‍लासेज के बाल कलाकारो ने आकर्षक एवं मनोहरी सांस्‍कृतिक कार्यक्रम प्रस्‍तुत किया। 

4 वर्षीय बालक रूद्रांश सिंह व 9 वर्षीय बालिका कु. स्‍नेहा शर्मा, ने तबला व हारमोनिया पर संगत कर दर्शको की खूब वाहवाही लूटी। रूद्रांश कार्यक्रम के आकर्षण का केंद्र बनी रही। इस अवसर पर संस्‍था द्वारा आयोजित विविध प्रतियोगिताओ में चयनित प्रतिभागियो को स्‍मृति चिन्‍ह व प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्‍मानित किया गया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad