गाजीपुर पुलिस की गुंडई! अपने चालक को टोकने पर खफा सैदपुर सीओ ने चिकित्सक के पिता की फोड़ी नाक - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर पुलिस की गुंडई! अपने चालक को टोकने पर खफा सैदपुर सीओ ने चिकित्सक के पिता की फोड़ी नाक

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर एक ओर योगी सरकार पुलिस कर्मियों को आमजन से भद्रता से पेश आने की नसीहत दे रही है। वहीं दूसरी ओर पुलिस कर्मी आमजन के साथ अपने बेजा रुआब गांठने से बाज नहीं आ रहे हैं। एक मामला सीओ सैदपुर सर्वेश मिश्र का सामने आया है। इसको लेकर गाजीपुर के चिकित्सक और चिकित्सा व्यवसायी गुस्से में हैं। वाकया रविवार की रात करीब आठ बजे का है। शहर के प्रमुख दंत चिकित्सक धर्मवीर के पिताश्री शेषनाथ प्रसाद एलआईसी में डीओ हैं। 

वह वाराणसी से अपने वाहन से परिवार संग घर लौट रहे थे। औड़िहार से पहले आगे चल रही कार बगैर संकेत दिए अचानक बीच हाइवे पर रुक गई। उससे श्री प्रसाद की कार टकराते बची। इस पर श्री प्रसाद अपनी कार से उतरे और आगे रुकी कार के चालक को इस तरह ट्रैफिक नियमों की अनदेखी के लिए टोके। संयोग से उस कार में सीओ सैदपुर की बिटिया बैठी थी। वह अपने पापा को फोन लगा दी। फिर क्या था। पापा का पारा चढ़ गया। जवाब श्री प्रसाद की कार के आने से पहले ही औड़िहार आ गए और उनकी कार के पीछे अपनी गाड़ी लगवा दिए। सैदपुर कोतवाली के सामने पहुंचने पर श्री प्रसाद की कार रुकवाए। 

उसके बाद वह खुद श्री प्रसाद का कॉलर पकड़ कार से बाहर खींचे और उनके चेहरे पर दनादन चार-पांच घूसे जड़ दिए। उससे श्री प्रसाद की नाक फट गई और खून की धारा फूट पड़ी। इससे भी सीओ साहब को संतोष नहीं हुआ। श्री प्रसाद समेत उनकी पत्नी तथा छोटे पुत्र को कोतवाली में बैठवा दिए। उनके पास के मोबाइल भी छीन लिए गए। किसी तरह इसकी जानकारी दंत चिकित्सक धर्मवीर को हुई। उसके बाद साथी चिकित्सक मनीष राय से घटनाक्रम की जानकारी दिए। मनीष राय ने पुलिस कप्तान से फोन पर पूरा वाकया बताया। 

उसके बाद धर्मवीर के पिता तथा मां-भाई सैदपुर कोतवाली से छोड़े गए। इस घटना को लेकर चिकित्सकों तथा चिकित्सा व्यवसाय से जुड़े लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया। ज्वाइंट मेडिकल फोरम का प्रतिनिधिमंडल सोमवार की सुबह करीब ११ बजे पुलिस कप्तान सोमेन बर्मा से मिला और दोषी सीओ सैदपुर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। बकौल फोरम, पुलिस कप्तान ने इस मामले में दो दिन की मोहलत मांगी है। 

अगर उसके बाद भी कुछ नहीं हुआ तो फिर फोरम आंदोलन के लिए बाध्य होगा। इस सिलसिले में गाजीपुर न्यूज़ ने सीधे सीओ सैदपुर को फोन लगाया। उधर से वह बोले-मुझे ऐसी किसी घटना की कोई जानकारी नहीं है। फिर पुलिस कप्तान से चर्चा की गई। 

उन्होंने बताया कि पूरे मामले की जांच की जिम्मेदारी एएसपी सिटी प्रदीप कुमार को सौंपी गई है। जांच रिपोर्ट के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी। पुलिस कप्तान से मिले ज्वाइंट फोरम के प्रतिनिधिमंडल में अध्यक्ष डॉ.जेएस राय, डॉ.यूसी राय, डॉ.जेपी यादव, डॉ.अभिषेक यादव, डॉ.विजय, डॉ.अविनाश सिन्हा, डॉ.अमित श्रीवास्तव सहित अफजल आदि थे। संयोग से उस वक्त मौजूद सपा के पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह ने भी इस घटना को दुखद बताया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad