गाजीपुर: श्वेता ने किया बाराचंवर का नाम रोशन - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: श्वेता ने किया बाराचंवर का नाम रोशन

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर प्रतिभा किसी की मोहताज नही होती है यह कब क्षितिज पर पहुंचकर अपना परचम लहराती है शायद किसी को पहले से पता नही रहता है कुछ यूं ही कर दिखाई है। बाराचवंर बिकास खण्ड की अमवां गांव के किसान विनोद सिहं की बेटी श्वेता सिहं ने उन्होने जेआरएफ की परीक्षा के लिए सन् 2017 मे परीक्षा दी थी, उसका परिणाम दो जनवरी 18 को आया उस परीक्षा को वो पास कर गयी है श्वेता बचपन से ही कुसाग्र बुद्धि की थी, हाईस्कुल और इण्टर मिडिएट की पढाई सन 200 व 2008मे स्व. देवराज यादव इण्टर कालेज रामभजनपुर बाकी खुर्द से अच्छे अंको से पास की है,

स्नातक की पढाई सन 2011 मे डा0रामनोहर लोहिया डिग्री कालेज अध्यात्मपुरम ढोटारी गाजीपुर से अच्छे अंको से पास की है स्नातक की पढाई करने के बाद वो परानास्क की पढाईकरने के लिए महात्मा गांधी काशीविद्मापीठ वाराणसी चली गयी वहा से वह हिन्दी विषय मे परानास्तक की डिग्री हासिल की ,फिर वही से वह एम फील मे दाखिला ली,तथा डा0निरंजन सहाय के निर्देशन मे एम फील की उपाधी हासिल की, सन 2015 मे ही उन्होने यू जी सी नेट की परीक्षा दी उसको भी वो पास कर गयी,

फिर दोबारा सन 2016 मे यू जी सी नेट की परीक्षा दी उस परीक्षा को भी वो पास कर गयी,वो आसानी से डब्ल नेट की डिग्री अपने पास रख ली है,इस सम्बध मे इस प्रतिनिधी ने श्वेता सिहं से कुछ खास बात चित की वो कहती है की मेरी पढाई यही तक नही सिमित है मै जब तक प्रोफेशर नही बन जाती तब तक मेरी पढाई जारी रहेगी,नेट और जे आर एफ परीक्षा पास करने के लिए मेरे ख्याल से किसी तरह की कोचिगं या शहर जाने की जरूरत नही है नेट और जे आर एफ के परिक्षार्थियो से मै यही कहना चाहती हूं की घर पर ही शांतिपुर्वक मन लगा कर विषय की पढाई करे इस तरह से भी नेट और जे आर एफ की परीक्षा आसानी से पास की जा सकती ह मैने नेट परीक्षा से मात्र27दिन ही मन लगाकर पढी थी,हा जे आर एफ की परीक्षा के लिए मैने एक मास तक 5से 6घंटा तक रोजाना पढी और पहले प्रयास मे ही मेरा जे आर एफ परीक्षा निकल गया, वे यही नही रूकी उनका कहना है की मुझे समीक्षक,पुस्तकआलोचक, के रूप मे स्थापित करना है,इसका श्रेय आप किसको देना चाहती है,मै कुछ दिनो तक क्षेत्र के ही आर एस कान्वेंट स्कुल बाराचवर पर पढाने का कार्य भी कि हुं वहा पर मुझे वरिष्ट टिचर राजेश राय सर,व सजयप्रजापति सर का सान्धिय प्राप्त हुआ,

उन लोगो ने नेट और जे आर एफ  की परीक्षा कई बार दिये थे,तथा इसका श्रेय माता पिता तथा अपने गुरूजनो को भी देती हुं।श्वेता सिहं की चार बहने व एक भाई है,श्वेता चौथे न0की है,जे आर एफ  परीक्षा निकालने पर श्वेता सिहं को बधाईयां व प्रसन्ता ब्यक्त करने  वाले शुभ चितको का ताता लगा है बधाई देने वालो मे डा0सानन्द सिहं,ब्लाक प्रमुख डा0प्रियंका सिहं,कौशल सिहं,युवा ब सपा नेता धन्नू सिहं,लोहा सिहं, रविन्द्र सिहं ,पंचम सिहं ग्रामप्रधान ढूक्कू सिहं,कालिका सिहं,विकास सिह,अजय सिहं,रघुनाथ प्राईवेट आई टी आई के निदेशक छोटे लाल सिहं,प्रवीण सिहं सूबाष सिह मास्टर साहब ने प्रसंन्ता ब्यक्त करते हुए बधाई भी दिया है

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad