गाजीपुर के लिए लाइफलाइन बनीं 108 एंबुलेंस सेवा - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर के लिए लाइफलाइन बनीं 108 एंबुलेंस सेवा

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर जीवीके ईएमआरआई यूपी संस्था के साउथ जोन के रीजनल मैनेजर अभिषेक त्रिपाठी प्रोग्राम मैनेजर प्रवीण कुमार श्रीवास्तव एवं जिला प्रभारी रवि कुमार सिंह, मोहित श्रीवास्तव, दीपक राय ने संयुक्त रुप से राईफल क्‍लब में आयोजित प्रेसवार्ता में बताया कि जिले में 108 एम्बुलेंस सेवा से 1.7 लाख लोगों को जिला अस्पताल पहुंचाया है। 

जिसमे सड़क दुर्घटना में घायल 10086, पेट दर्द 22068, सांस लेने में तकलीफ संबंधित 7008, हृदय रोग 5466, बुखार 9242, अचेत 7087, अन्य लोगों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करवाया है। प्रदेश भर में 17 मई 2018 तक 108 एंबुलेंस की सेवा से एक करोड़ लाभार्थियों का उपचार कराया गया। 102 एंबुलेंस सेवा में जिले में करीब 5 लाख महिला व बच्चों का मदद कर चुका है। 

102 एंबुलेंस जिले में 42 हैं, प्रदेश भर में 2270 एंबुलेंस संचालित है। 102 एंबुलेंस लाभार्थी मरीजों को घर से अस्पताल लाना, फिर अस्पताल से घर तक छोडने का काम कर चुका है। जिले में एएलएस एंबुलेंस सेवा दो उपलब्ध करायी गयी है। जो गरीब मरीजों के बेहतर इलाज के लिए तत्पर है। मरीज को अच्छेे उपचार के लिए उत्तर प्रदेश सरकार की पहल पर लखनऊ से 14 अप्रैल 2017 को शुरु हुई है। जिसमे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकारी आवास से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। 

इस सेवा की खास बात यह है कि गंभीर मरीजों को दिल्ली से सटे 200 किलोमीटर पीजीआई चंडीगढ़ तक ले जाकर भर्ती कराने की सुविधा है। जिले में एएलएस सेवा के 434 मरीजों को अस्पताल पहुंचा चुका है। अब यह संस्था विदेश में भी शुरु कर दिया गया है। जिसमे श्रीलंका 120 एंबुलेंस सेवा शुरु कर दी गयी है। संस्था का उत्तर प्रदेश व गुजरात में 181 वूमेन हेल्पलाईन, डायल-100, 104 हेल्पलाईन, मदर एंड चाइल्ड्ट्रेकिंग फैसिलिटेशन सेंटर का भी संचालन कर रही है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad