गाजीपुर: कर्मनाशा किनारे मिली लाश, कनपटी पर थे संघातक चोट के निशान - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: कर्मनाशा किनारे मिली लाश, कनपटी पर थे संघातक चोट के निशान

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर गहमर लहना गांव के युवक श्रीकांत यादव श्री(27) की कर्मनाशा किनारे बुधवार की सुबह लाश मिली। मामला हत्या का है लेकिन फिलहाल पुलिस को कोई तहरीर नहीं मिली है। युवक गांव के प्रधान तारकेश्वर  यादव का चचेरा भाई बताया गया है। उन्होंने बताया कि गांव की एक महिला का सुबह करीब दस बजे उन्हें फोन आया। महिला बताई कि श्रीकांत रात में उसके ही घर था लेकिन सुबह से लापता है। उसके कपड़े, चप्पल घर के बाहर पड़े थे। वह उन्हें सहेज कर घर में रख दी है। कपड़े पर खून के निशान हैं। 

साथ ही घर के बाहर भी कुछ जगह खून के छींटे हैं।  उसके बाद तारकेश्वर श्रीकांत के पिता वंशनारायण तथा फौजी भाई रमाकांत यादव के साथ मौके पर पहुंचे। वहां किसी को घसीटने के निशान थे। फिर आगे बढ़ने पर कर्मनाशा किनारे श्रीकांत की लाश मिली। उसकी कनपटी तथा हाथ पर धारदार हथियार के प्रहार के निशान थे। पास में एक जंग लगा गड़ांसा भी पड़ा था लेकिन उस पर खून के निशान नहीं थे। श्रीकांत कुछ नहीं करता था। वह मंगलवार की शाम घर से निकला था। 

मौके पर सीओ जमानियां आरबी सिंह तथा एसएचओ गहमर बालमुकुंद मिश्र पहुंचे। उन्होंने बताया कि युवक की हत्या हुई है लेकिन क्यों और किसने ऐसा किया यह फिलहाल साफ नहीं है। ग्रामीणों के अनुसार श्रीकांत ताड़ी का शौकिन था और वह उस महिला के घर प्रायः हर रोज जाया-करता था। महिला का पति खाड़ी देश में नौकरी करता है। श्रीकांत की शादी वर्ष 2013 में जमानियां कोतवाली के दरौली गांव में हुई थी। उसका चार साल का एक पुत्र भी है। गांव के कुछ लोग श्रीकांत की हत्या का कारण महिला से भी जोड़ रहे हैं। ग्राम प्रधान ने कहा कि श्रीकांत के परिवार की किसी से कोई रंजिश नहीं है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad