गाजीपुर: वेटिंग टिकट पर भी रेल यात्रा संभव - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: वेटिंग टिकट पर भी रेल यात्रा संभव

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर रेल यात्रियों के लिए अहम खबर। यात्रा से पहले टिकट वेटिंग में है तो नो टेंशन। यात्रा संभव है। इंडियन रेल कैटरिंग और टूरिज्म कार्पोरेशन (आईआरसीटीसी) ने अब ऑनलाइन टिकट धारकों के लिए नियमों में कुछ परिवर्तन किया है। उसके तहत वेटिंग टिकट वाले यात्री भी ट्रेन में यात्रा के हकदार होंगे। हालांकि यह तभी संभव होगा जब संबंधित यात्री कुछ नियमों को पालन करेंगे। अभी तक रेल यात्रियों के लिए नियम था कि वेटिंग टिकट वाले यात्रा नहीं कर सकते हैं। केवल विंडो या फिर काउंटर से खरीदे गए प्रतीक्षारत यात्री अपनी श्रेणी में दिन के दौरान सफर कर सकते हैं।

यह नियम ऑनलाइन बुक गए टिकट पर लागू नहीं होता है। ऑनलाइन बुक किए वेटिंग टिकट यात्री अभी यात्रा नहीं कर सकते हैं और ऐसा करते हुए पाए जाने पर उनको बिना टिकट यात्रा करने का दोषी माना जाता है  लेकिन आईआरसीटीसी की ओर से परिवर्तित नियम के अनुसार प्रतीक्षारत यात्रियों को सहूलियत देते हुए कहा है कि चार्ट बन जाने के बाद भी जिन यात्रियों का नाम होगा वह अपना सफर कर सकेंगे। ऐसे में उन यात्रियों को यात्रा करने पर किसी तरह का कोई जुर्माना नहीं देना होगा, जिनका टिकट प्रतीक्षारत सूची में होगा। मसलन एक टिकट बुक है और उसमें छह यात्रियों के नाम है। टिकट बुक होने के बाद अगर तीन यात्रियों का टिकट कंफर्म हुआ है और तीन का प्रतीक्षारत है, तो भी सभी छह यात्री इस एक टिकट पर यात्रा कर सकेंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि सभी का नाम चार्ट में रहेगा। इन तीन यात्रियों से किसी भी तरह का कोई जु्र्माना भी नहीं वसूला जाएगा। पहले यह सुविधा केवल बुकिंग विंडो से खरीदे गए टिकट पर मिलती थी, लेकिन अब इसे आईआरसीटीसी की वेबसाइट से बुक किए गए टिकट पर भी मिलेगी।

अगर आप यात्रा नहीं करना चाहते हैं, तो फिर चार्ट बनने से पहले अपना टिकट कैंसिल करा लें। चार्ट बनने से पहले कराए गए टिकट कैंसिल पर ही रेलवे की तरफ से रिफंड मिलेगा। अगर आप चार्ट बनने के बाद टिकट कैंसिल करते हैं तो कोई रिफंड नहीं मिलेगा। अगर आप ऐसे टिकट पर रिफंड चाहते हैं तो फिर etickets@irctc.co पर जल्द से जल्द ई-मेल करके दावा कर सकते हैं। रेलवे फिर इस तरह के टिकट पर निर्णय लेकर के रिफंड करेगा।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad