गाजीपुर: गंगा में बढ़ाव जारी, अगले दो-तीन दिनों में रफ्तार तेज होने की संभावना - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: गंगा में बढ़ाव जारी, अगले दो-तीन दिनों में रफ्तार तेज होने की संभावना

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर गंगा के तटवर्ती इलाके के लोगों के लिए अच्छी खबर नहीं है। बढ़ाव थम नहीं रहा है। बल्कि अनुमान है कि बढ़ने की रफ्तार और तेज हो सकती है। गाजीपुर सोमवार की सुबह पांच बजे से पहले 24 घंटे में कुल 13 सेंटीमीटर की वृद्धि दर्ज हुई। जलस्तर 60.720 मीटर रिकार्ड किया गया।

उधर इलाहाबाद में भी गंगा का जलस्तर 24 घंटे में 540 सेंटीमीटर बढ़ा है जबकि यमुना 38 सेंटीमीटर बढ़ी है। सिंचाई विभाग के एक्सईएन आरके शर्मा ने बताया कि भारी बारिश के कारण कानपुर गंगा बैराज का पानी बराबर छोड़ा जा रहा है जबकि पहले से ही यमुना में मध्य प्रदेश में बेलवा, केन का पानी यमुना में दबाव बनाए हुए हैं। बारिश के कारण झांसी में माता टीला डैम का पानी भी छोड़ा गया है। वह पानी सीधे यमुना में आ रहा है और यमुना का पानी गंगा में आकर समाहित हो रहा है।

इं.शर्मा ने कहा कि हाल-फिलहाल गंगा में बढ़ाव की गुंजाइश नहीं दिख रही है। अनुमान है कि इलाहाबाद में गंगा तथा यमुना में बढ़ाव और तेज होगा। उस दशा में हैरानी नहीं कि गाजीपुर में गंगा के जलस्तर में वृद्धि की रफ्तार भी बढ़े। गाजीपुर में गंगा के बाढ़ के खतरे की एक वजह नीचे घाघरा भी बनी हुई है। घाघरा पूरी तरह लबालब है। इसकी वजह से गंगा के पानी रुक रहा है। गंगा के तटीय आबादी के बुजुर्ग भी मानते हैं कि गंगा में बाढ़ का खतरा अगस्त के आखिर और सितंबर के मध्य तक रहता है। उधर प्रशासन का दावा है कि बाढ़ को लेकर वह अलर्ट है। हर एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। एडीएम राजेश कुमार का कहना है कि फिलहाल खतरे की कोई बात नहीं है। गंगा खतरे के निशान से करीब तीन मीटर नीचे हैं। बावजूद संबंधित अधिकारियों, कर्मचारियों को पूरी नजर रखने को कहा गया है। अभी एनडीआरएफ की टीम को बुलाने की नौबत नहीं आई है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad