गाजीपुर: कांग्रेस का भारत बंद, व्यापारियों का समर्थन, प्रशासन अलर्ट - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: कांग्रेस का भारत बंद, व्यापारियों का समर्थन, प्रशासन अलर्ट

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर पेट्रोलियम की बेतहाशा बढ़ रही कीमत और महंगाई के खिलाफ कांग्रेस के दस सितंबर को भारत बंद के ऐलान को लेकर आमजन में भी उत्सुकता है। बंद को गाजीपुर के व्यापारियों ने भी समर्थन दिया है। बंद पर कानून-व्यवस्था को लेकर प्रशासन भी अलर्ट है। भारत बंद की पूर्व संध्या पर रविवार को कांग्रेस के जिला कैंप कार्यालय पर बैठक हुई। उसमें बंद को सफल बनाने की रणनीति पर विस्तार से चर्चा  हुई।

बैठक में तय हुआ कि ब्लाक अध्यक्ष अपने क्षेत्र में शांतिपूर्ण तरीके से बंद को सफल बनाएंगे जबकि जिला मुख्यालय पर सिटी स्टेशन पर सुबह आठ बजे पार्टीजन एकत्र  होंगे और बाइक जुलूस निकाल कर शहर में भ्रमण कर बंद को सफल बनाने के लिए आमजन से आग्रह करेंगे। बैठक में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष दिग्विजय सिंह ने कहा कि आजादी के बाद यह पहला मौका है जब ईंधन गैस और पेट्रोल-डीजल की कीमत में ऐतिहासिक वृद्धि हुई है। इससे आमजन सीधे प्रभावित हो रहा है। बावजूद भाजपा सरकार को अपने मुनाफे की फिक्र है। वह बढ़ी कीमत से 11 लाख करोड़ रुपये कमा चुकी है। जिलाध्यक्ष डॉ.मारकंडेय सिंह ने कहा कि पार्टीजन भारत बंद शांतिपूर्ण तरीके से कराएंगे। इसके लिए जनता से साग्रह सहयोग मांगा जाएगा। बैठक में अहमद जमाल जैदी, अमिताभ अनिल दूबे, रविकांत राय, अजय सिंह, राजीव कुमार सिंह, मुहम्मद राशिद, आशुतोष गुप्त, जनक कुशवाहा, बटुक नारायण मिश्र, सतिराम सिंह, फरीद गाजी, हनुमान सिंह, लालसा देव यादव, आनंद कुमार राय, गिरजादत्त दूबे, राजेश श्रीवास्तव, सुनीता यादव, कृष्ण, जयराम सिंह, सबीबुल हसन, सीताराम राय, विनोद कुमार सिंह, मोहन चौहान, देवनारायण सिंह आदि मौजूद थे।

उधर जिला उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल के अध्यक्ष अबू फखर खां ने कहा कि कांग्रेसीजनों ने उनकी संस्था से सहयोग मांगा है। व्यापारी अपनी दुकान तथा प्रतिष्ठान बंद रखेंगे। पुलिस कप्तान यशवीर सिंह ने कहा कि भारत बंद के मौके पर कानून-व्यवस्था को लेकर पूरी चौकसी रहेगी। किसी को जबरदस्ती दुकानें, प्रतिष्ठान तथा यातायात बंद कराने की इजाजत नहीं दी जाएगी। ऐसा करने पर दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad