गाजीपुर: इधर प्रेमिका का विषपान उधर प्रेमी की सड़क हादसे में मौत - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: इधर प्रेमिका का विषपान उधर प्रेमी की सड़क हादसे में मौत

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर मुहब्बत का और एक खौफनाक नतीजा सामने आया। जहां प्रेमिका ने जहर खाकर खुदकुशी की कोशिश की वहीं प्रेमी की संदिग्धावस्था में मौत हो गई। वाकया गुरुवार की सुबह शहर कोतवाली क्षेत्र का है। प्रेमी बाबूलाल बिंद(22) बकराबाद गांव का रहने वाला था जबकि प्रेमिका फाक्सगंज की बताई गई है। उसे जिला अस्पताल में दाखिल कराया गया है। जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। बाबूलाल बिंद की मौत को उसके घरवाले शुरू में हत्या बताते हुए प्रेमिका के घरवालों को जिम्मेदार मान रहे थे लेकिन देर शाम पीएम रिपोर्ट ने उनके आरोप को सिरे से खारिज कर दिया। पीएम रिपोर्ट के मुताबिक बाबूलाल की मौत सड़क हादसे में हुई। 

एएसपी सिटी प्रदीप कुमार ने बताया कि पीएम रिपोर्ट में सिर में चोट के गंभीर निशान का जिक्र है। साथ ही प्राइवेट पार्ट में भी चोट है लेकिन वह सुरक्षित है। संभव हो कि किसी दो पहिया अथवा सरिया लदे किसा वाहन ने उसे धक्का मारा होगा। इस लिए प्राइवेट पार्ट के अगल-बगल चोट आई। उधर बाबूलाल बिंद के पिता सेठ बिंद का शुरुआती बयान था कि उनका बेटे के फोन पर सुबह करीब साढ़े नौ बजे एक कॉल आई। उसके बाद वह साइकिल से निकला। किसी अनहोनी की आशंका पर सेठ बिंद भी कुछ देर बाद उसके पीछे हो लिए। वह अतरौली गांव के पास पहुंचे ही थे कि उनकी नजर हाइवे किनारे लहूलुहान पड़े अपने बेटे पर पड़ी। सरकारी एंबुलेंस से उसे जिला अस्पताल ले गए जहां चिकित्सकों ने उसको मृत घोषित कर दिया। उन्हें पता चला है कि बाइक सवार युवक उनके बेटे को रोके और हॉकी से उस पर हमला कर दिए थे। सेठ बिंद विकास भवन के पास लाई-चना बेचते हैं जबकि उनका बेटा बाबूलाल भी बिहार के मधुबनी में यही काम करता था। करीब दो माह पहले घर आया था।

प्रेमिका पहुंची थी बाबूलाल के घर
युवक बाबूलाल के चाचा प्रभुनाथ ने बताया कि बाबूलाल की कथित प्रेमिका बुधवार की रात अचानक उनके घर आ धमकी थी। इसके बाद उन्होंने लड़की के पिता को फोन से इसकी जानकारी दी। तब पिता तथा मां और एक अन्य बाइक से उनके घर पहुंचे और लड़की को लेकर चले गए थे। प्रभुनाथ ने यह बताने में भी असमर्थता जताई कि बाबूलाल और उस लड़की के बीच कब से और कैसे संबंध बने थे।

प्रेमिका के पिता बोले
प्रेमिका के पिता ने जिला अस्पताल में बताया कि वह गुरुवार की सुबह मजदूरी करने घर से निकल गए थे। कुछ ही देर बाद उन्हें फोन पर सूचना मिली कि उनकी बेटी गेहूं में डाली जाने वाली दवा खा ली है और उसकी तबीयत बिगड़ गई है। तब वह घर लौट बेटी को जिला अस्पताल लाए। उन्होंने अपनी बेटी के कथित प्रेमी की हत्या में अपनी संलिप्तता से इन्कार करते हुए बताए कि उनकी संतानों की यह अवस्था नहीं है कि वह उस तरीके से हत्या करें। हालांकि लड़की के पिता यह जरूर कबूले कि उनकी बेटी मृत युवक बाबूलाल के घर गई थी और वह उसे वापस लाए थे। बताए कि बाबूलाल के चाचा प्रभुनाथ उनके साढ़ू हैं।

कोतवाल ने लिया युवती का बयान
शहर कोतवाल राजीव कुमार सिंह ने बताया कि इस मामले में कोई तहरीर नहीं मिली है। उन्होंने जहर खाने के बाद जिला अस्पताल में दाखिल युवती का बयान लिया है। युवती ने युवक बाबूलाल से अपने प्रेम संबंध होने और बुधवार की रात उसके घर जाने की बात कबूली है लेकिन उसने बाबूलाल की मौत के कारण के प्रति अनभिज्ञता जताई।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad