गाजीपुर: जिस पति के दीर्घायु के लिए तीज व्रत रखी, वही आशीर्वाद की जगह दिया गालियां - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: जिस पति के दीर्घायु के लिए तीज व्रत रखी, वही आशीर्वाद की जगह दिया गालियां

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर निःसंदेह तीज का पर्व सुहागन के लिए अहम होता है। महिलाएं अपने पति के दीर्घायु की कामना के साथ निर्जला व्रत रखती हैं। विधिवत पूजा कर पति से आशीर्वाद लेती हैं लेकिन किसी महिला को आशीर्वाद की जगह पति की गालियां मिले। इसे उस अबला संग जुल्म नहीं तो और क्या कहेंगे। कुछ ऐसी ही कहानी शहर कोतवाली के कालीनगर कॉलोनी फुल्लनपुर की जूही राय की है। बुधवार को जूही तीज व्रत के बाद पूजा-पाठ कर पति अतुल राय की मंगल कामना की और फिर फोन पर उससे आशीर्वाद मांगी। उधर से पति फिर सास ने गालियों की बौछार शुरू कर दी।

हालांकि, जूही पर जुल्म की यह कहानी शादी के बाद ही शुरू हो गई थी। जूही की शादी 20 जनवरी 2016 को शहर कोतवाली के ही चंद्रा कॉलोनी निवासी अतुल से धूमधाम के साथ हुई थी। शादी में जूही के बीएसएफ के जवान पिता ने अपनी हैसियत से कहीं ज्यादा नकदी, जेवर, कपड़े, बर्तन सहित फ्रिज, वॉशिंग मशीन, टीवी के अलावा फर्नीचर और रोजमर्रा के अन्य कीमती सामान दहेज में दिए। जूही के मां-पिता इतना कुछ देने के बाद उम्मीद लगाए थे कि उनकी लाडली बेटी एयरफोर्स में काम कर रहे अपने पति संग खुशहाल रहेगी लेकिन लोभी ससुराली दहेज में उतना कुछ मिलने के बाद भी संतुष्ट नहीं थे। पति समेत सास मीरा राय व जेठ अविनाश उर्फ सिंटू राय जूही पर दहेज में कार लाने के लिए दबाव बनाने लगे। पीड़ित जूही के मुताबिक इसको लेकर वह उसे नाहक मारते-पीटते। उसी बीच वह गर्भवती हुई। तब सास उसे लेकर बलिया गई और जूही के भ्रुण लिंग का परीक्षण कराई। पता चला कि जूही के गर्भ में कन्या पल रही है तो ससुराली उस पर गर्भपात का दबाव बनाना शुरू कर दिए। उसे दहेज के साथ गर्भस्थ कन्या को लेकर ताना भी दिया जाने लगा। बावजूद कोख में पल रहे अपने कलेजे के टुकड़े को जूही जन्म दी। उसके बाद तो उसकी प्रताड़ना और तेज हो गई।

आखिर में रोज-रोज की नाहक प्रताड़ना से आजिज जूही करीब चार माह पहले अपनी दूधमुंही बेटी को लेकर मायके आ गई। वह चाहती है कि बेटी और खुद के पालन-पोषण के लिए कुछ करे लेकिन उसके सारे शैक्षणिक प्रमाण पत्र और कपड़े, जेवर ससुराली देने को तैयार नहीं हैं। जूही की मानी जाए तो ससुरालियों ने अपनी पेशबंदी के लिए शहर कोतवाली में झूठी तहरीर भी दी है। यही नहीं बल्कि एक महिला पुलिस के जरिये उसे फोन पर धमकी भी दी जा रही है और अब जबकि तीज के पर्व पर उसके साथ जो कुछ हुआ। उससे जूही भी अपने हक के लिए कानूनी लड़ाई की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में वह गुरुवार को पुलिस कप्तान से मिली। पति, सास तथा जेठ के खिलाफ तहरीर दी। उसके बाद जूही ने बताया कि पुलिस कप्तान ने इस मामले में कार्रवाई का भरोसा दिया है। इस बाबत गाजीपुर आजकल डॉट कॉम ने शहर कोतवाल राजीव कुमार सिंह से बात की। उन्होंने कहा कि मामला उनके संज्ञान में है। विवेचना कर आगे की कार्रवाई होगी।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad