गाजीपुर: फेसबुक लाइव के बाद अब पत्र के जरिये छात्रों तक पहुंचने की मनोज सिन्हा की कवायद - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: फेसबुक लाइव के बाद अब पत्र के जरिये छात्रों तक पहुंचने की मनोज सिन्हा की कवायद

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर संचार एवं रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा अपने संसदीय क्षेत्र गाजीपुर के छात्र समुदाय तक अपनी बात पहुंचाने की कोशिश में जुटे हैं। बुधवार की देर शाम साढ़े सात बजे वह फेसबुक लाइव के जरिये इस नई पीढ़ी से सीधे मुखातिब हुए थे। करीब 20 मिनट तक वह लाइव रहे। उस बीच उनसे गाजीपुर के करीब साढ़े पांच हजार छात्र, युवा ऑनलाइन हुए। वह श्री सिन्हा की बात सुने और उनसे कई छात्रों ने सवाल भी किए। जहां श्री सिन्हा की बात में गाजीपुर की भविष्य की उन्नति केंद्र में थी तो छात्रों के ज्यादार सवाल भी विकास, शिक्षा तथा स्वास्थ्य से जुड़े थे। उसी क्रम में श्री सिन्हा ने बताया कि वह छात्रों को पत्र भेजेंगे और उनसे जवाब में भविष्य के गाजीपुर को लेकर सुझाव की अपेक्षा करेंगे। कहे कि छात्र न सिर्फ शिक्षा बल्कि गाजीपुर के कृषि, औद्योगिक, प्रौद्योगिकी क्षेत्र में भी विकास की संभावनाओं को लेकर पत्र में चर्चा कर सकते हैं।

श्री सिन्हा की फेसबुक लाइव में एक पंच लाइन यह भी थी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जन्मतिथि 17 सितंबर से 25 सितंबर तक स्वच्छता ही सेवा अभियान चलाया जाएगा। उसके तहत मलिन बस्तियों में स्वास्थ्य परीक्षण कैंप लगेंगे। इस अभियान में छात्रों, बच्चों की सहभागिता की वह अपेक्षा करते हैं। श्री सिन्हा के फेसबुक लाइव के वक्त उनसे मुखातिब होने के लिए भाजपा आईटी विभाग के संयोजक कार्तिक गुप्त ने टैक्सी स्टैंड स्थित कार्यालय में व्यवस्था की थी। उसमें काफी संख्या में छात्र, युवक पहुंचे थे। निजी सचिव सिद्धार्थ राय ने बताया कि मंत्रीजी का यह पत्र शिक्षण संस्थाओं के जरिये छात्रों तक पहुंचाया जाएगा। जवाब के लिए कोई एक तिथि तय की जाएगी। फिर उस तिथि पर संस्थाओं में एक लेटर बॉक्स रखा जाएगा। छात्र उसमें अपना जवाबी पत्र डालेंगे। श्री सिन्हा उन पत्रों को खुद पढ़ेंगे और उनका जवाब भी पत्र के जरिये देंगे। यही नहीं बल्कि बेहतर सुझाव वाले पत्रों की प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी।

यह है पत्र का मजमून

प्रिय बच्चों,

आज इस पत्र के माध्यम से मैं आप से गाजीपुर की भावी तस्वीर के बारे में कुछ बातें करने चाहता हूं। आपके सुझाव लेना चाहता हूं। किसी भी समाज की भावी पीढ़ी ही उसका भविष्य गढ़ती है। आप जहां रहते हैं। उसका भविष्य भी आपसे ही जुड़ा हुआ है। और आने वाला भविष्य तभी उज्ज्वल होगा। जबकि उसमें आप बच्चों की सहभागीदारी होगी। क्यों कि भारत का भविष्य आप बच्चों से है। जब हम महानगरों की ओर बढ़ते हैं। वहां की चीजों को देखते हैं। तब हमारा भी मन करता है कि काश ऐसा कुछ हमारे गाजीपुर में भी होता तो कितना अच्छा होता। जब मैं आपकी उम्र का था तब मेरे भी मन में ऐसे विचार आते थे और आज भी आते हैं और शायद हमेशा आते रहेंगे। मुझे पता है कि आपके मन में भी कुछ ऐसे ही विचार आते होंगे, पर वह विचार व सुझाव सिर्फ आपके मन तक ही सीमित रह जाते होंगे। क्यों कि हमें यह नहीं पता होता कि हम अपने विचार किस तक पहुंचाए। मैं भी बचपन में सिर्फ सोच कर रह जाता था। क्यों कि कोई पूछने वाला नहीं था। शायद इस लिए क्यों कि सबको यह लगता था कि हम अभी छोटे हैं। बच्चों, पिछले चार वर्षों में हमनें कुछ बेहतर करने का प्रयास किया है गाजीपुर में, पर इस प्रयास को अभी और लंबी दूरी तय करनी है और इतनी लंबी दूरी तय करनी है कि दूसरे जनपद में रहने वाले आपके दोस्त और रिश्तेदार जब गाजीपुर आएं तब वह यहां से कुछ सीख कर अपने जिले के लिए लेकर जाएं। बच्चों यह सब चीज कोई एक व्यक्ति नहीं कर सकता। जब तक कि इसमें सबकी सहभागीदारी न हो। आप सभी नई पीढ़ी के हैं। नया सोचते हैं। इस लिए मेरा इस पत्र के माध्यम से आग्रह है कि आप सब भी मुझे पत्र लिख कर बताएं कि आप  किस तरह की सुविधा, सुंदरता, शिक्षा, स्वच्छता और किस तरह का गाजीपुर आने वाले समय में देखना चाहते हैं। आपके यशस्वी जीवन की मंगल कामना के साथ।–आपका मनोज सिन्हा।  

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad