गाजीपुर: अपने वजूद बचाने की गरज में विरोधी कर रहे गठबंधनः मनोज सिन्हा - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: अपने वजूद बचाने की गरज में विरोधी कर रहे गठबंधनः मनोज सिन्हा

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर संचार एवं रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा अपने संसदीय क्षेत्र गाजीपुर के दो दिवसीय दौरे के अंतिम दिन रविवार को सैदपुर तथा जखनियां विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न जगह जनसंवाद किए। इस मौके पर उन्होंने विरोधी दलों के गठबंधन पर सीधा प्रहार किया। सवालिया लहजे में कहे कि मोदी सरकार गरीबों को मकान दे रही है। क्या यह गलत है। गरीबों के घरों में बिजली पहुंचा रही है। क्या यह गलत है। गरीबों के  रसोईघरों में गैस चूल्हा उपलब्ध करा रही है। क्या यह हलत है। तब फिर कौन सी आफत आ गई है कि विरोधी अपने तमाम वैचारिक मतभेदों को दरकिनार कर मोदी सरकार को हटाने के लिए गठबंधन बना रहे हैं। दरअसल नरेंद्र मोदी के भारतीय राजनीति में रहते विरोधियों को अपने अस्तित्व पर संकट का अंदाजा हो गया है। यही वजह है कि वह बेचैन हो गए हैं लेकिन जनता जानती है कि उसका असल हितैषी कौन है। कौन नेता है जो उनकी तरक्की, खुशहाली के लिए बिना थके हर रोज 18 घंटे काम कर रहा है।

अलावलपुर, बुजुर्गा, भुडकुड़ा तथा मौधा में आयोजित जनसंवाद में  श्री सिन्हा ने कहा कि जहां मनुष्य के हाथों काम होता है। वहां भ्रष्टाचार की गुंजाइश बनी रहती है लेकिन जहां तकनीकी से काम होता है वहां भ्रष्टाचार की गुंजाइश नहीं रहती। मोदी सरकार यही कर रही है। आज डिजिटल तकनीकी के जरिये कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंच रहा है। इसके चलते वह बेचैन हैं जो गरीबों का राशन गटक जाते थे। वह बेचैन हैं जो गरीब छात्रों की छात्रवृत्ति हड़प जाते थे। अकेले इस साल 90 हजार करोड़ रुपये योजनाओं को आधार कार्ड से लिंक होने के कारण भ्रष्टाचारियों के हाथों में जाने से बच गए। वह रकम गरीबों के कल्याण में काम आ रही है। अपनी सरकार का बखान करने के साथ ही गाजीपुर के समग्र विकास को लेकर अपनी प्रतिबद्धता दोहराते हुए बताए कि गाजीपुर के सभी विधानसभा क्षेत्रों मे सडकों के शिलान्यास के लिए 15 अक्टूबर को प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य आएंगे। उसके बाद नवंबर में प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा का आगमन होगा। तब गाजीपुर में अपेक्षित विद्युत व्यवस्था के लिए सब स्टेशनों के निर्माण की रूपरेखा बनेगी।

मौजूद जनसमूह से  श्री सिन्हा ने कहा कि गाजीपुर की यह विकास यात्रा समाप्त नहीं हुई है। बस इसे जारी रखने के लिए आप मुझे ताकत दें। यह यात्रा बहुत दूर तक जाएगी। इस मौके पर उन्होंने जनसमूह से हाथ उठवा कर मोदी सरकार के प्रति समर्थन का वादा लिया। कार्यक्रम में भाजपा जिलाध्यक्ष भानुप्रताप सिंह, प्रभुनाथ चौहान, अनुसूचित मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामहित राम, सुनिल सिंह, रामनरेश कुशवाहा, मुराहू राजभर, युवा मोर्चा काशी क्षेत्र अध्यक्ष राजेश भारद्वाज, ओमकार सिंह, कुंवर रमेश सिंह पप्पू, जमुना यादव, नीतू जायसवाल, दुर्गैश सिंह, शशिकांत शर्मा, मंयक जायसवाल, खरभु चौहान, महेंद्र नाथ दूबे, वीरेंद्र चौहान, हंसराज राजभर, मनीष वर्मा, अजय राय, एकरामुल्लाह, जलील इदरीशी, डा एमके जायसवाल, अर्जुन राजभर, अवधेश यादव आदि थे। उसके पूर्व पहले दिन मनोज सिन्हा ने जमानियां क्षेत्र में आयोजित जनसंवाद में बताया कि गंगा में बन रहे रेल-सड़क पुल अगले साल 14 नवंबर से पहले जनता को समर्पित हो जाएगा।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad