गाजीपुर: बरही में चक्कजाम कर बवाल करने वालें आक्रोशित 65 ग्रामीणो पर मुकदमा दर्ज - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: बरही में चक्कजाम कर बवाल करने वालें आक्रोशित 65 ग्रामीणो पर मुकदमा दर्ज

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर बरही में चक्‍काजाम कर बवाल करने वालें ग्रामीणो पर पुलिस प्रशासन ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस अधीक्षक डा. अरबिंद चतुर्वेदी ने बताया कि करीब डेढ दर्जन नामजद व 50 अज्ञात लोगो पर संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस अधीक्षक डा. अरबिंद चतुर्वेदी ने बताया कि चक्‍काजाम कर गाडि़यों की तोड़फोड़ करना, राहगीरो को मारना-पीटना यह जघन्‍य अपराध है और दोषियो के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। बरही तड़िया गांव निवासी युवक रामसरेख चौहान की हत्या से सोमवार को आधी रात तक बवाल चलता रहा। रात करीब 12 बजे जाम स्थल पर पहुंचकर पुलिस ने शव को कब्जे में लेने का प्रयास किया तो भीड़ उग्र हो गई। भी़ड़ ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करने के साथ ही पथराव शुरू कर दिया। आरोपित के दरवाजे पर लगी झोपड़ी फूंकने के साथ ही तोड़फोड भी किया गया। 

पथराव में जाम में फंसे जहां कुछ कई वाहनों के शीशे टूट गए वहीं कुछ राहगीर भी घायल हो गए। पुलिस ने लाठी भांजकर उन्हें खदेड़ा। इस मामले में रामसरेख के भाई राजेश चौहान की तहरीर पर पुलिस ने मिश्री लाल समेत छह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मां-बेटी को गिरफ्त में लेते हुए जेल भेज दिया। रामसरेख चौहान की हत्या से ग्रामीणों में काफी आक्रोश था। पीड़ित परिवार व ग्रामीण पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा रहे थे। उनका कहना था कि थाने में तैनात एक दारोगा के कारस्तानी के चलते इतनी बड़ी घटना घटित हुई है। मामला न्यायालय में विचाराधीन होने के बाद भी हत्यारोपी आबादी की जमीन को लेकर रामसरेख से हमेशा विवाद करते थे। सोमवार को रामसरेख अपने घर पर मौजूद थे उसी दौरान प्लान के तहत आरोपित आए और लाठी-डंडे से पीटकर मौत के घाट उतार दिए। 

गौरतलब हो कि सोमवार को मरदह थाना क्षेत्र के बरही तड़िया गांव में आबादी की भूमि को लेकर दबंगों ने लाठी-डंडे से पीटकर युवक रामसरेख चौहान की हत्या कर दी थी। हत्या से नाराज ग्रामीणों ने शाम को बरही चट्टी पर जाम लगा दिया था। शुरू में थानाध्यक्ष श्यामजी यादव पहुंचकर उन्हें समझाने का प्रयास किए लेकिन वे नहीं माने। रात के पहर अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण चंद्रप्रकाश शुक्ला पहुंचे और आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का भरोसा दिए, मगर ग्रामीण सुनने को तैयार नहीं हुए। ऐसे में पुलिस सख्ती कर शव को लेने का प्रयास की तो भीड़ उग्र होकर पथराव शुरू कर दी। इस मामले में पुलिस के रवैए की चर्चा है लोगों में। युवक रामसरेख की हत्या के मामले में भाई राजेश चौहान की तहरीर पर मिश्रीलाल चौहान, विश्वनाथ, सुशीला देवी, पार्वती, रीना चौहान व धमेंद्र चौहान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपित मां सुशीला व बेटी रीना को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। जल्द ही अन्य सारे आरोपित पुलिस गिरफ्त में होंगे।

No comments:

Post a Comment

योगदान करें!

सत्ता को आइना दिखाने वाली गाजीपुर समाचार पत्रकारिता जो राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. योगदान करें.

Donate Now
तत्काल दान करने के लिए, "Donate Now" बटन पर क्लिक करें।



Post Top Ad