गाजीपुर सनबीम स्कूल: मणिपुर के कलाकारो ने बांधा शमा - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर सनबीम स्कूल: मणिपुर के कलाकारो ने बांधा शमा

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर सनबीम स्कूल के प्रांगण में सोमवार को स्पिक मकाय के मौके पर मणिपुर के पारम्परिक नृत्य पुंगचोलम प्रस्तुत किया गया। जिसमें मणिपुर के जाने-माने लोकगीत एवं नृत्य कलाकार खुमुक्षम रोमेन्ड्रो सिंह ने अपने साथी कलाकारों कंगाबम बसु सिंह, सांसाराम रोजर सिंह, येंगखोम धर्मराज सिंह, थिंगनम दिनेश्वर सिंह, निंगोम्बम्नाओबा सिंह, चनम प्रद्युम सिंह व थोक्षोम दिलीप सिंह के साथ मिलकर अपने शास्त्रीय नृत्य एवं गीतों से कार्यक्रम में उपस्थित जन समूह को सम्मोहित कर दिया। कार्यक्रम का शुभारम्भ विद्यालय के डायरेक्टर के.पी.सिंह, उपनिदेशिका शोभा सिंह, नवीन सिंह, असिस्टैण्ट डायरेक्टर प्रवीण सिंह, असिस्टेट डायरेक्टर अकेडमिक स्मिता सिंह, विद्यालय की प्रधानाचार्या मिस. वैशालाक्षी, उपप्रधानाचार्या अर्चना तिवारी तथा अतिथि कलाकार खुमुक्षम रोमेन्ड्रो सिंह द्वारा गणेश वंदना एवं दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुआ। 

इसके उपरांत विद्यालय के डायरेक्टर के. पी. सिंह ने अतिथि कलाकारों का माल्यार्पण कर स्वागत किया। स्पिक मकाय के अंतर्गत अतिथि कलाकारों द्वारा पारम्परिक मणिपुरी नृत्य पुंगचोलम प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर छात्रों ने नृत्य एवं गीतों से सम्बन्धित विभिन्न बारीकियों को देखा और खुमुक्षम रोमेन्ड्रो सिंह से इस नृत्य से सम्बन्धित प्रश्न किये। छात्रों के प्रश्न से खुमुक्षम रोमेन्ड्रो सिह ने उत्तर देते हुए कहा कि पुंगचोलम एक मणिपुर नृत्य है। यह मणिपुरी संकीर्तन और शास्त्रीय मणिपुर नृत्य की आत्मा है। यह नृत्य एक ड्रम के साथ किया जाता है। कार्यक्रम में स्थानीय वातावरण को इस तरह स्थापित किया गया कि दर्शक अपने आप को उदिशा के वातावरण का अनुभव करते हुए पूरी तरह कार्यक्रम के साथ जुड़े रहे। 

मणिपुरी फाक नृत्य और मणिपुरी मार्शल आर्ट्स से सम्बन्धित पारम्परिक पुंगचोलम नृत्य को देखकर उपस्थित जन समूह सम्मोहित होकर कार्यक्रम का आनन्द लेते रहे। अपने व्यक्तव्य में खुमुक्षम रोमेन्ड्रो सिंह ने गाजीपुर की जनता का धन्यवाद किया और कहा कि उन्हें जो प्यार और सम्मान मिला, वे कभी नहीं भूल सकते। विद्यालय के डायरेक्टर के. पी. सिंह जी ने कलाकारों के नृत्य एवं गीतों की सराहना करते हुए उनका आभार व्यक्त किया और अपने संदेश में उन्होंने भारतीय संस्कृति और विभिन्न प्रान्तों के लोकगीत एवं नृत्य को इसी प्रकार बढ़ावा देने की बात कही। उन्होंने कलाकारों को स्मृति चिह्न भी प्रदान किया। 

विद्यालय की प्रधानाचार्य मिस. वैशालाक्षी ने भी मणिपुरी पुंगचोलम नृत्य कला परिषद् का आभार व्यक्त किया और सभी विद्यार्थियों एवं उपस्थित दर्शकों से अनुरोध किया कि वे इसी प्रकार स्थानीय लोकगीतों, नृत्य एवं संस्कृति को बढ़ावा देते रहे। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के छात्र मास्टर सत्यम ने किया। इस मौके पर विद्यालय के शिक्षक, छात्र, अभिभावक एवं अन्य गणमान्य अतिथि उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad