गाजीपुर: गरीब के घर तक पहुंचाये सरकारी योजनाओं को– मनोज सिन्हा - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: गरीब के घर तक पहुंचाये सरकारी योजनाओं को– मनोज सिन्हा

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर स्वास्थ्य के क्षेत्र में सबसे बड़ी योजना आयुष्मान भारत को भारत सरकार लागू करने जा रही है। जिससे देश के लगभग 11 करोड़ परिवारों को 500000 तक की नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मिल सकेगी। सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए हमें भी जागरूक होना पड़ेगा, यह बातें कल शाम गाजीपुर सदर विधानसभा के मिरनपुर भारतीय जनता पार्टी द्वारा आयोजित जन चौपाल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्रीय रेल व संचार राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कही, उन्होंने कहा कि कृषि के क्षेत्र में भारत सरकार खरीफ की फसल से किसानों की लागत का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य घोषित करने जा रही है तथा बाजार भाव के अंतर को सीधे किसानों के बैंक खातों में भेजने का भी प्रयास किया जा रहा है। 

मंत्री मनोज सिन्हा ने पार्टी कार्यकर्ताओं का आवाहन करते हुए कहा कि समाज के लिए दो कदम हमें भी चलने की आवश्यकता है और हमारे कार्यकर्ता और पार्टी के जिम्मेदार लोगों को भी सिर्फ लोगों से वोट मांगना या सदस्यता कराना यही सामाजिक कार्य नहीं है । सामाजिक और राजनीतिक कार्यकर्ता होने के नाते लोगों के दुख दर्द में उनके लिए दो कदम हमे चलने की आवश्यकता है। उनके दुख दर्द मे हम खडे रहे यह हमारी नैतिक व सामाजिक जिम्मेदारी है। सरकारी योजनाएं गरीब आदमी के दरवाजे पहुंचे इसके लिए हम सहयोगी बने । 

आने वाला समय देश की राजनीति का संक्रमण काल है देश की राजनीति की दिशा अब बदल चुकी है पहले का समय था जब राजनीति आंदोलन धरना प्रदर्शन का प्रबल माध्यम होती थी पर अब राजनीति की दिशा बदल चुकी है सेवा राजनीति का प्रबल माध्यम बनने जा रही है। उसके लिए हम क्या कर सकते हैं यह राजनितिज्ञों को सोचना होगा। नशा के खिलाफ बोलते हुए व संकेत मे लोगों का ध्यान आकर्षित करते हुए उन्होंने कहा कि हमारा धर्म है सामाजिक कार्यकर्ता होने के नाते की हम सामाजिक बुराइयों से लडे़।इससे हमें लड़ने की जरूरत है तथा उस से समाज के लोगों को दूर रहने की नसीहत देते हुए कहा कि स्वास्थ्य की दृष्टि से यह ठीक नहीं है । शाम के समय गाजीपुर में ऐसे अक्सर लोगों से मुलाकात हो जाती हैं ।और मैं समझता हूं कि यह अमृत नहीं है जिसे छोडा न जा सके, गांव परिवार के लोग प्रयास करके इस बुराई से किसी को निकाल सके तो यह बड़ा काम होगा।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad