गाजीपुर: कैल्शियम और खून की कमी से जूझ रहीं ग्रामीण महिलाएं - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: कैल्शियम और खून की कमी से जूझ रहीं ग्रामीण महिलाएं

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर ग्रामीण इलाकों की उम्रदराज महिलाओं में खून और कैल्शियम की कमी है। इसके चलते उनके शरीर में सूजन और घुटनों में दर्द की शिकायत रहती है। सदर ब्लाक के चक अब्दुल बहाव गांव के प्राइमरी स्कूल कैंपस में सोमवार को लगे हेल्थ कैंप में यह तथ्य सामने आया। संचार एवं रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा की पहल पर सेवा सप्ताह के तहत वाराणसी के प्रख्यात निजी अस्पताल हेरिडेज की ओर से आोयजित इस कैंप में कुल 1152 लोगों का परीक्षण हुआ। उनमें सबसे ज्यादा घुटने में दर्द की शिकायत आई। खासकर 40 साल से अधिक अवस्था महिलाएं शामिल रहीं। कमोवेश यही स्थित खून की कमी की रही। ज्यादातर महिलाएं खून की कमी के कारण होने वाले रोग से पीड़ित थीं।

श्री सिन्हा के निजी सचिव सिद्धार्थ राय ने कैंप के चिकित्सकों के हवाले से बताया कि महिलाओं की इस परेशानी का मुख्य कारण संतुलित और पौष्टिक आहार का अभाव है लेकिन सुखद यह रहा कि मधुमेह तथा रक्तचाप से पीड़ित लोगों की संख्या अपेक्षाकृत काफी कम रही। कैंप में हड्डी,, गुर्दा, टीबी, दंत, नेत्र रोग के परीक्षण किए गए। ब्लड प्रेसर, शुगर, ईसीजी की जांच हुई। कैंप का उद्घाटन मनोज सिन्हा ने दीप प्रज्ज्वलन और फीता काट कर किया। उन्होंने खुद कैंप में आए बीएचयू मेडिकल संस्थान के पूर्व निदेशक राना गोपाल सिंह एवं हेरिटेज वाराणसी से चिकित्सकों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर श्री सिन्हा ने हेरिटेज के प्रबंधन के प्रति आभार जताया। बताए कि गाजीपुर में स्वीकृत मेडिकल कॉलेज का निर्माण अगले साल तक पूरा हो जाएगा और 2020 तक उसमें चिकित्सकीय पढ़ाई के साथ आमजन को चिकित्सकीय सुविधा भी मिलनी शुरू हो जाएगी।

अपने संबोधन में संचार एवं रेल राज्यमंत्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बखान करना नहीं भूले। कहे कि जहां पूरे विश्व ने तय किया कि वर्ष 2030 तक संसार को टीबी मुक्त बनाया जाएगा वहीं प्रधानमंत्री इसे 2025 तक भारत को टीवी से मुक्त बनाने का संकल्प लिया। आयुष्मान भारत योजना शुरू हो चुकी है। उसका लाभ देश के 50 करोड़ लोगों को मिलेगा। उन्होनें बताया कि देश भर में डेढ़ लाख वेलनेस सेंटर बनेंगे। इनमें दस सेंटर गाजीपुर में बनेंगे। यह सेंटर तीन माह में बन कर तैयार हो जाएंगे। जहां प्राथमिक चिकित्सा के साथ योग एव आयुर्वेद चिकित्सा की भी सुविधा उपलब्ध रहेगी। उद्घाटन समारोह में एसडीएम सदर शिवशरणप्पा, सीएमओ जीसी मौर्य, बीएसए श्रवण कुमार, अपर जिला सूचना अधिकारी राकेश कुमार के अलावा भाजपा जिलाध्यक्ष भानुप्रताप सिंह, मंत्री प्रतिनिधि सुनील सिंह आदि भी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad