गाजीपुर: संविदा और प्राइवेट विभागीय कर्मियों के मानदेय को लेकर विद्युत मजदूर पंचायत की चेतावनी - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: संविदा और प्राइवेट विभागीय कर्मियों के मानदेय को लेकर विद्युत मजदूर पंचायत की चेतावनी

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर विद्युत मजदूर पंचायत संविदा और प्राइवेट विभागीय कर्मियों के मानदेय के लंबित भुगतान को लेकर गुस्से में है। शुक्रवार को मंडल कार्यालय में पंचायत की इस सिलिसले में हुई बैठक में संयोजक निर्भय नारायण सिंह ने कहा कि इस मामले को लेकर संगठन आर-पार की लड़ाई की तैयारी में है। प्राइवेट मीटर रीडर, डिस्कनेक्शन टीम, प्राइवेट कंप्यूटर ऑपरेटर के मानदेय के भुगतान को मामले में विभगीय प्रबंधन पूरी तरह उदासीन है। यह सरासर गलत है। मानदेय के अभाव में संबंधित कर्मियों के परिवार के सामने पेट भरने तक का संकट खड़ा हो गया है। इस ममला में कई दौर में संगठन की अधीक्षण अभियंता से वार्ता हुई। बावजूद कोई नतीजा नहीं निकला। इस दशा में अब आंदोलन के सिवाय और कोई विकल्प नहीं बचा है। उन्होंने चेताया कि अगर 14 अक्टूबर तक भुगतान नहीं हुआ तो 15 अक्टूबर से कार्य बहिष्कार शुरू होगा। तब औद्योगिक संकट के लिए विभागीय प्रबंधन जिम्मेदार होगा।

मीटर रीडर संघ के अध्यक्ष विनय तिवारी ने कहा कि बार-बार समझौते के बाद भी उसका अनुपालन नहीं होना गंभीर मामला बनता है। यह आंदोलन के लिए वाध्य करने जैसा है। बैठक में विजय शंकर राय, अजय विश्वकर्मा, सुरेश सिंह, प्रवीण सिंह, शशिकांत कुशवाहा, पंकज सिंह, अश्वनी सिंह, जितेंद्र सिंह, पिताबंर, अन्सर अली, रमेश यादव, प्रमोद राय, कृष्णकांत सिंह, नरेंद्र यादव, बद्रीचंद, हरिकेश कुशवाहा, बच्चू यादव, सुनील यादव, प्रदीप यादव, बबन सिंह, संदीप, दिलीप, राज आदि थे। उधर इस मामले में अधीक्षण अभियंता आरआर प्रसाद से चर्चा की गई। उनका कहना था कि अव्वल तो प्राइवेट कर्मियों के भुगतान के लिए विभाग सीधे तौर पर जवाबदेय नहीं है। यह काम उनके ठेकेदारों का है। विभाग ठेकेदारों को भुगतान की कार्यवाही शुरू कर दिया है। उनका यह भी कहना था कि प्राइवेट मीटर रीडर ईमानदारी से काम नहीं कर रहे हैं। कई जगह ऐसा हुआ है कि मीटर की रीडिंग सही नहीं हुई है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad