गाजीपुर: छठ पर्व पर उजड़ गई मां की कोख, कर्मनाशा में डूबकर पुत्र की मौत - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: छठ पर्व पर उजड़ गई मां की कोख, कर्मनाशा में डूबकर पुत्र की मौत

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर छठ के पावन पर्व पर महिलाएं अपने बच्चों एवं परिवार के खुशहाली की कामना करते हुए व्रत रखती हैं, ऐसे में एक मां की कोख तब उजड़ गई जब उसका पुत्र पर्व के दौरान नदी में स्नान करते समय डूब गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार सुहवल गांव निवासी रजिन्द्र कुशवाहा पुत्र रामऔतार कुशवाहा 17 वर्ष जो अपनी मां शकुंतला देवी के साथ ननिहाल गहमर थाना क्षेत्र के सायर गांव में छठ मनाने गया था। बुधवार की सुबह कर्मनाशा नदी में पर्व के दौरान घाट पर स्नान करते समय गहरे पानी में डूबकर उसकी मौत हो गई। इस घटना के बाद जहाँ उसकी मां चीखने-चिल्लाने लगी वंही उसके ननिहाल में लोग रोने विलखने लगे। 

जब इस घटना की जानकारी गहमर थाना प्रभारी निरीक्षक बालमुकुंद मिश्रा को हुई तो दलबल के साथ घटना स्थल पर पहुँच शव को कब्जे में लेकर पोस्टेमार्टम के लिए भेज दिया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मृतक अपने भाई एवं मां के साथ कर्मनाशा नदी के घाट किनारे छठ मनाने पहुंचे थे। उसकी मां मंगलगीत गाते हुए कर्मनाशा घाट पहुँच पुत्रों के दीर्घायु के लिए भाष्कर देव से प्रार्थना शुरू कर दिया। भाष्कर देव के प्रकट होते ही जब अर्घ देने के लिए उसकी मां ने दोनों पुत्रों को पुकारा तो छोटा पुत्र महेन्द्र वहाँ पहुँच गया जबकि बड़ा पुत्र के नही मिलने पर सबको चिंता सताने लगी। 

लोगो ने बताया कि एक लडका स्नान करते वक्त डूब गया है, तुरंत नाविकों एवं स्थानीय ग्रामीणों की मदद से जाल डालकर उसे जब बाहर निकाला गया तो उसकी पहचान रजिन्द्र कुश्वाहा पुत्र रामऔतार कुशवाहा करीब 17 वर्ष निवासी सुहवल होते ही वहाँ कोहराम मच गया। घटना के बाद तो वहाँ का माहौल पूरी तरह से करूणकन्द्रन से भर गया। मृतक के पिता के मुताबिक उसके दोनों पुत्र क्रमशः सबसे बडा मृतक रजिन्द्र कुश्वाहा एवं महेन्द्र कुश्वाहा अपनी मां शकुंतला देवी के साथ बीते शनिवार को डाला छठ का पर्व मनाने के लिए अपने ननिहाल गहमर थाना क्षेत्र के सायर गाँव निवासी अपने नाना बलदेव कुशवाहा के घर आये हुए थे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad