गाजीपुर: पूर्व मंत्री ओपी सिंह के गढ़ में मनोज सिन्हा का भव्य स्वागत बना चर्चा का विषय - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: पूर्व मंत्री ओपी सिंह के गढ़ में मनोज सिन्हा का भव्य स्वागत बना चर्चा का विषय

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा जनपद में प्रतिदिन कोई न कोई विकास कार्य करते रहते हैं लेकिन रविवार को अकलियत के सेंटर एमएएच इंटर कालेज में जाकर पूर्व पर्यटन मंत्री के गढ़ में सेंध लगाने की चर्चा आज जिले में जोरों पर है। एमएएच स्कूल अकलियत का एक मजबूत शिक्षा सेंटर है जिसके प्रबंध समिति में कमसार के बड़े दिग्गजों का प्रभाव है। जिला मुख्यालय के अलावा कमसार मुसलमानों के लिए यह शिक्षा सेंटर प्रतिष्ठक का केंद्र है। रविवार को एमएएच स्कूल में रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा का भव्य स्वागत हुआ। उनके स्वागत में विद्यालय के प्राचार्य खालिद आमीर ने कहा कि अब तक सबसे ज्यादा विकास कार्य करने वाले मनोज सिन्हा जनप्रतिनिधि हैं। 

रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने विकास के रास्तेे पर मिल का पत्थर गाड़ दिया है। इसके बाद रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा के स्वागत में अकलियत के बुद्धिजीवियों ने कसींदें पढे़। रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने इस अवसर पर कम्प्यूटर प्रयोगशाला का उद्घाटन किया और कहा कि एमएएच इंटर कालेज जैसे विद्यालयों से ही वैज्ञानिक, आईएएस, आईपीएस जैसी प्रतिभाएं निकलती हैं। अंग्रेजी स्कूलों से बहुत ही कम प्रतिभा निकलती है। हम लोग कार्य योजना बनाकर ऐसे स्कूलों को निखारने का काम करेंगे। विशिष्ट अतिथि सदर विधायक डा. संगीता बलवंत ने कहा कि मैं स्कूल के विकास के लिए हम संभव मदद करने को तैयार हूं। 

इस अवसर पर विद्यालय के प्रबंधक हाजी मोहम्मद वारिस खान, अहमद जमाल जैदी, शेखजैनुल आबदी, पूर्व ब्लाक प्रमुख रशीद खान, जमालुद्दीन खान, सोहेल खान, श्रीकांत पांडेय, आकाश सिंह आदि लोग उपस्थित थे। अध्यक्षता मजहर हुसैन व संचालन तबरेज खान ने किया। इस कार्यक्रम की चर्चा पूरे जिले में रही। क्योंकि सपा सरकार में पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह का पूरा आशीर्वाद एमएएच इंटर कालेज पर था। क्योंकि इस कालेज का जुड़ाव सीधे जमानियां के कमसार क्षेत्र से होता है। ओमप्रकाश सिंह ने अपने कार्यकाल में विद्यालय के विकास के लिए हर संभव मदद किया था। सत्ता बदलने के कुछ ही महीने बाद ही ओपी के गढ़ में मनोज सिन्हा का स्वा्गत चर्चा का विषय बना हुआ है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad