गाजीपुर: कौशल विकास मेेले में 1534 युवाओं का रोजगार, बवाल के बाद 17 कंपनियों का पलायन - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: कौशल विकास मेेले में 1534 युवाओं का रोजगार, बवाल के बाद 17 कंपनियों का पलायन

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर कौशल विकास मंत्रालय की ओर से सहजानंद डिग्री कालेज में लगे रोजगार मेले के पहले दिन 1534 युवाओं को रोजगार मिला। मेले के दूसरे दिन जुटे 4557 युवाओं ने आवेदन कर 35 कंपनियों के स्टाल पर इंटरव्यू दिया। इनमें साक्षात्कार के बाद 1534 को कंपनियों ने आफर लेटर थमाया। हालांकि औपचारिकताएं पूरी होने के बाद उन्हें ज्वाइनिंग मिलेगी। इन युवाओं को 7000 से लेकर 25000 रुपये तक की वेतन पर नियुक्ति दी गई। रविवार को रोजगार मेले में कड़ी सुरक्षा के बीच सघन तलाशी लेकर युवाओं को प्रवेश दिया गया।

शनिवार को सहजानंद डिग्री कालेज में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सभा के दौरान हंगामे के दौरान रुमाल में पत्थर फेंकने के बाद महकमा सजग दिखा। कौशल विकास मंत्रालय द्वारा आयोजित रोजगार मेले के दूसरे दिन रविवार को भी अभ्यर्थियों की काफी भीड़ रही। हालांकि भगदड़ और पत्थरबाजी को लेकर प्रशासन पहले ही चौकन्ना था। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए थे। सीओ महिपाल पाठक व अतिरिक्त एसडीएम मौके पर लागातार बने रहे। साक्षात्कार देने आए अभ्यर्थियों की विकास भवन चौराहे से सहजानंद कालेज के गेट नंबर दो तक लंबी कतार लगी थी। महिला अभ्यर्थियों का प्रवेश गेट नंबर एक से हो रहा था। दोनों गेट पर पुलिस के अलावा आयोजकों द्वारा चयनित वालंटियर लगाए गए थे। जो अभ्यर्थियों के गेट के अंदर प्रवेश से पहले ही उनका डाक्यूमेंट चेक करके ही अंदर प्रवेश करने दे रहे थे।


बैरिकेटिंग कर की गई सतर्कता
रोजगार मेला स्थल सहजानंद पीजी कालेज पर जाने वाले सभी चौराहों पर सुरक्षा के दृष्टिकोण से बैरेकेटिंग की गई थी। शहर के अन्य चौराहों पर भी बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था, जो किसी भी वाहन को बैरेकटिंग के अंदर प्रवेश नहीं करने दे रहे थे। वहीं भाजपा नेता भी जांच करते दिखे।

माइक में हो रहा था एनाउंस
अभ्यर्थियों को किसी प्रकार की असुविधा न हो इसके डाइरेक्शन के लिए हर काउंटर और गेट पर माइक से एनाउंसमेंट हो रहा था। बताया जा रहा था कि कहां फार्म जमा करें और कहां से प्राप्त करें। विभिन्न कंपनियों की सूची भी लगाई गई थी, जिसको पढ़कर अभ्यर्थी अपने योग्यता के अनुसार कंपनियों का चुनाव करके अपना आवेदन जमा करके साक्षात्कार दे रहे थे।

बवाल के बाद मेले की बदली व्यवस्था
नेशलन स्किल डिवेलपमेंट कार्पोेरेशन के मेले में आए जमानियां व सेवराई तहसील के अभ्यर्थियों के लिए अलग-अलग दो गेट बनाए गए। युवतियों को कालेज के गेट नंबर एक व युवाओं के लिए गेट नंबर दो के तरफ से प्रवेश की व्यवस्था की गई थी। अभ्यर्थियों के शैक्षिक दस्तावेज और पहचान पत्र देखकर प्रवेश दिया जा रहा था।

बवाल के बाद 17 कंपनियों का पलायन
रोजगार मेले में पहले दिन अभ्यर्थियों के हंगामे के बाद बाहर से आई कई कंपनियों के सुपरवाइजर लौट गए। पहले दिन मारपीट और काउंटर पर तोड़फोड़ के बाद 17 कंपनियां रोजगार मेले को अधूरा छोड़कर चली गई। अभ्रदता से क्षुब्ध होकर रोजगार मेले में दूसरे दिन प्रतिभाग नहीं किया।


आज होगा सदर व सैदपुर के अभ्यर्थियों का साक्षात्कार
रोजगार मेले 24 दिसंबर को सदर तहसील व सैदपुर तहसील के युवक व युवतियों को मौका मिलेगा। दोनों तहसीलों के बेरोजगार युवक व युवतियां अपने मूल प्रमाण पत्र, पहचान पत्र, बायोडाटा के साथ इस मेले में प्रतिभाग करेंगे। पंजीकरण सुबह 9.30 बजे से प्रारंभ हो जाएगा।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad