बेरोजगारों को योगी सरकार का बहुत बड़ा तोहफा, यूपी के प्राइमरी स्कूलों में टीचरों की बंपर भर्ती - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

बेरोजगारों को योगी सरकार का बहुत बड़ा तोहफा, यूपी के प्राइमरी स्कूलों में टीचरों की बंपर भर्ती

देखिए किस जिले में रखे जाएंगे कितने प्राइमरी टीचर, कब देनी होगी शिक्षक भर्ती परीक्षा
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के बेरोजगारों को योगी सरकार ने दिवाली का बंपर गिफ्ट देने की तैयारी कर ली है। सत्ता में आने के बाद यूपी सरकार प्राइमरी स्कूलों बंपर शिक्षक भर्ती करने जा रही है। बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में जल्द ही 68,500 शिक्षकों की भर्ती होने जा रही है। बेसिक शिक्षा निदेशालय ने शिक्षक भर्ती का प्रस्ताव राज्य सरकार को भेज दिया है। यह शिक्षक भर्ती दिसम्बर से शुरू हो सकती है। इस बार शिक्षक भर्तियों में सबसे ज्यादा वैकेंसी सीतापुर में हैं। यूपी के लगभग दो दर्जन जिले ऐसे हैं जहां एक हजार से ज्यादा शिक्षकों की भर्ती होने जा रही है।

लिखित परीक्षा होगी शिक्षक भर्ती
आपको बता दें कि यह पहला मौका होगा जब शिक्षक भर्ती के लिए अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा देनी होगी। शिक्षामित्र भी इस शिक्षक भर्ती में शामिल होंगे। दरअसल अभी हालही में 1.30 लाख शिक्षामित्रों का समायोजन सुप्रीम कोर्ट ने रद्द कर दिया था। जिसके बाद अब टीईटी में पास होने वाले सभी अभ्यर्थी (शिक्षा मित्र समेत) ही लिखित परीक्षा दे सकेंगे।

150 नंबर की होगी लिखित परीक्षा
शिक्षक भर्ती के लिए लिखित परीक्षा 150 नंबर की होगी। इस परीक्षा के लिए ढाई घण्टे का समय तय किया गया है। इस परीक्षा में हिन्दी, इंगलिश, मैथ और साइंस के 15-15 नंबर के सवाल, जनरल नॉलेज और शिक्षण कौशल से संबंधित 30-30 नंबर, तार्किक ज्ञान के 10 और निबंध के लिए 20 नंबर तय किए गए हैं। हालांकि लिखित परीक्षा के खाके पर सभी डायट प्राचार्यों से भी सुझाव मांगे गए हैं। इन सुझावों को जोड़ते हुए लिखित परीक्षा के खाके को अंतिम रूप दिया जाएगा। इस लिखित परीक्षा में पास अभ्यर्थियों के शैक्षिक गुणांक को जोड़ते हुए मेरिट तैयार की जाएगी। वहीं शिक्षामित्रों को भी हर साल के लिए ढाई अंक का भारांक भी इसमें जोड़ा जाएगा।

इन जिलों में निकलेगी इतनी वैकेंसी
- आगरा 1200
- अलीगढ़ 800
- इलाहाबाद 1400
- अम्बेडकर नगर 1000
- अमेठी 1100
- औरैया 700
- आजमगढ़ 900
- बदायूं 600
- बागपत 500
- बलिया 900
- बलरामपुर 800
- बांदा 1100
- बाराबंकी 600
- बस्ती 1150
- बरेली 750
- बहराइच 1350
- बिजनौर 750
- बुलंदशहर 550
- चंदौली 450
- चित्रकूट 1050
- देवरिया 1200
- एटा 850
- इटावा 1000
- फिरोजाबाद 950 
- फरुखाबाद 700
- फतेहपुर 900
- फैजाबाद 1000
- गौतमबुद्ध नगर 500
- गाजियाबाद 300
- गाजीपुर 1300
- गोण्डा 1450
- गोरखपुर 900
- हमीरपुर 600
- हरदोई 1300
- हाथरस 750
- हापुड़ 200
- जालौन 400
- जौनपुर 1200
- झांसी 450
- जेपीनगर 350
- कन्नौज 800
- कानपुर देहात 900
- कानपुर नगर 600
- कासगंज 700
- कौशाम्बी 650
- कुशीनगर 1950
- लखीमपुर खीरी 1350
- ललितपुर 500
- लखनऊ 1000
- महाराजगंज 900
- महोबा 650
- मैनपुरी 1050
- मथुरा 850
- मऊ 700
- मुरादाबाद 950
- मुजफ्फरनगर 550
- मेरठ 600
- मिर्जापुर 500
- पीलीभीत 700
- प्रतापगढ़ 1000
- रायबरेली 800
- रामपुर 550
- श्रवस्ती 300
- सिद्धार्थनगर 800
- सहारनपुर 700
- शाहजहांपुर 500
- संभल 350
- सुलतानपुर 950
- सीतापुर 2000
- संत कबीर नगर 1000
- सोनभद्र 890
- रविदास नगर 500
- शामली 300
- उन्नाव 1000
- वाराणसी 980

No comments:

Post a Comment

योगदान करें!

सत्ता को आइना दिखाने वाली गाजीपुर समाचार पत्रकारिता जो राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. योगदान करें.

Donate Now
तत्काल दान करने के लिए, "Donate Now" बटन पर क्लिक करें।



Post Top Ad