गाजीपुर - राजेश दूबे है पत्रकार राजेश मिश्र का हत्यारा! - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर - राजेश दूबे है पत्रकार राजेश मिश्र का हत्यारा!

करंडा। पत्रकार एवं आरएसएस के खंड कार्यवाह राजेश मिश्र की शनिवार की सुबह हुई हत्या में खूंखार बदमाश राजेश दूबे शामिल है। हालांकि पुलिस फिलहाल इस बात को खारिज कर रही है लेकिन इलाके में चर्चा है कि राजेश दूबे का ही यह काम हो सकता है। इस मसले पर गाजीपुर न्यूज़ ने राजेश के बड़े भाई ब्रजेश मिश्र से बात की। उन्होंने कहा कि राजेश की किसी से कोई निजी अदावत नहीं थी। संभव है कि उनकी निर्भिक पत्रकारिता ही हत्या का कारण बनी हो। लिहाजा वह यह नहीं बता सकते कि हत्यारे कौन थे। 

पुलिस कप्तान सोमेन बर्मा ने कहा कि अभी वह कुछ नहीं कह सकते लेकिन घटनाक्रम के हिसाब से यह जरूर है कि राजेश मिश्र के हत्या करने वाले बदमाश जरूर पेशेवर थे। घटना स्थल के आसपास विभिन्न दुकानों, निकटवर्ती पेट्रोल पंप की सीसीटीवी के वीडियो फुटेज देखे जा रहे हैं। उनमें कैद संदिग्धों की पहचान की कोशिश हो रही है। उधर पत्रकार तथा आरएसएस पदाधिकारी की हत्या का मामला ऊपर तक पहुंच गया है। आईजी वाराणसी दीपक रतन मौके पर पहुंचे। उन्होंने घटनाक्रम की जानकारी ली। 

उनके निर्देश पर हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की पांच टीमें गठित की गई हैं। संदिग्धों के ठिकानों पर दबिश का काम भी शुरू हो गया है। अपने पूर्व कार्यक्रम के मुताबिक गाजीपुर आए रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा भी राजेश मिश्र के घर ब्राह्मणपुरा पहुंचे। उन्होंने घरवालों को बताया कि इस दुख की घड़ी में सरकार और भाजपा उनके साथ है। श्री सिन्हा ने वहीं से पुलिस कप्तान को फोन लगाया और साफ कहा कि किसी भी दशा में 48 घंटे के भीतर हत्यारों की गिरफ्तारी होनी चाहिए। इसी क्रम में भाजपा एमएलसी भी राजेश मिश्र के घर गए। उन्होंने भी परिवार का ढांढ़स बंधाया। 

पुलिस अधिकारियों से हत्यारों की शीघ्र गिरफ्तारी की बात कही। इसी बीच अपने संसदीय क्षेत्र चंदौली में प्रवास कर रहे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ.महेंद्र पांडेय भी गाजीपुर के लिए रवाना हो चुके हैं। पार्टी जिलाध्यक्ष भानुप्रताप सिंह ने कहा कि संभव है कि वह भी दिवंगत पत्रकार राजेश मिश्र के घर जाएं। वैसे अपने चाचा लालजी पांडेय की पत्नी के निधन पर उनके शास्त्री नगर आवास पर आयोजित कार्यक्रम में भी वह भाग लेंगे। घटना में घायल राजेश मिश्र के छोटे भाई अमितेश मिश्र(25) की हालत नाजुक बनी हुई है। 

उनका इलाज वाराणसी के सिंह हॉस्पिटल में चल रहा है। चिकित्सकों के मुताबिक ऑपरेशन कर गोली निकाल दी गई है। बावजूद उनकी हालत नाजुक है। उन्हें देखने के लिए काशी पत्रकार संघ के अध्यक्ष सुभाष सिंह सिंह हॉस्पिटल पहुंचे थे। चिकित्सकों से उन्होंने अमितेश के स्वास्थ्य के बाबत जानकारी ली। उस मौके पर उन्होंने घटना की निंदा करते हुए कहा कि जनहितकारी कामों में लगे पत्रकारों की सुरक्षा की गारंटी सरकार को देनी होगी। इसके लिए अलग से कानून बनाना जरूरी है। 

बताए कि काशी पत्रकार संघ के 29 अक्टूबर को प्रस्तावित पूर्वांचल सम्मेलन में राजेश मिश्र की हत्या का मामला भी प्रमुखता से उठेगा। मालूम हो कि पत्रकार राजेश मिश्र अपने गांव ब्राह्मणपुरा की चट्टी पर बैठे थे। तभी बाइक सवार दो बदमाश पहुंचे। पीछे बैठा बदमाश दोनों हाथों में पिस्तौल लिए उतरा और राजेश मिश्र पर फायर झोंक दिया। उसके बाद वह अपनी बाइक की ओर लौटने लगा। उसी बीच लहूलुहान राजेश दरवाजे की ओर भागने लगे। तब वह बदमाश दोबारा लौटा और फिर उसने उन्हें गोली मारी। 

मौके पर मौजूद राजेश के भाई अमितेश लाठी लेकर उस बदमाश की ओर लपके। बचाव में बदमाश उन्हें भी गोली मार दिया। उसके बाद वह अपने साथी के साथ चोचकपुर की ओर निकल गया। बाइक चला रहा बदमाश गमछे से मुंह ढांके था। पोस्टमार्टम के बाद पत्रकार राजेश मिश्र का दाहसंस्कार देर शाम चोचकपुर श्मशान घाट पर हुआ। मुखाग्नि उनके बड़े भाई ब्रजेश मिश्र ने दी। उस मौके पर काफी संख्या में राजनीतिक कार्यकर्ता, समाजसेवी, पत्रकार भी मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

योगदान करें!

सत्ता को आइना दिखाने वाली गाजीपुर समाचार पत्रकारिता जो राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. योगदान करें.

Donate Now
तत्काल दान करने के लिए, "Donate Now" बटन पर क्लिक करें।



Post Top Ad