यूपी के प्राथमिक स्कूलों में 69000 शिक्षकों की भर्ती शुरू, परीक्षा 6 जनवरी को - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

यूपी के प्राथमिक स्कूलों में 69000 शिक्षकों की भर्ती शुरू, परीक्षा 6 जनवरी को

गाजीपुर न्यूज़ टीम, यूपी के बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 69,000 सहायक अध्यापकों की भर्ती रविवार को शुरू हो गई। भर्ती के लिए शासनादेश देर शाम जारी कर दिया गया। इस हफ्ते के अंत तक ऑनलाइन आवेदन शुरू होने की उम्मीद है। परीक्षा 6 जनवरी को 11 से 2.30 बजे तक मंडल मुख्यालय वाले जिलों में होगी। इसकी जिम्मेदारी परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय एलनगंज को दी गई है। 

खास बात यह कि सात साल के अंतराल के बाद बीएड डिग्रीधारियों को प्राथमिक स्तर की भर्ती में अवसर दिया गया है। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने इसी साल 28 जून को अधिसूचना जारी कर बीएड डिग्रीधारियों को प्राथमिक स्तर की भर्ती में अवसर दिया था। प्राथमिक स्तर की टीईटी 2018 में भी बीएड अभ्यर्थियों को मौका मिला था। 68,500 शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा में सब्जेक्टिव पेपर होने के कारण पैदा हुए बवाल को देखते हुए 69,000 की परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न रखे जाने का निर्णय लिया गया है जिसका जवाब ओएमआर शीट पर देना होगा। इसमें प्राथमिक स्तर की टीईटी में सफल अभ्यर्थी शामिल होंगे जिसका परिणाम चार या पांच दिसंबर को घोषित होने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि कक्षा एक से पांच तक की टीईटी में 3 से 3.5 लाख तक अभ्यर्थी सफल होंगे। 

अंतर पैदा करने के लिए 69,000 पदों पर भर्ती
69,000 सहायक अध्यापकों की भर्ती का शासनादेश जारी होने पर माना जा रहा है कि सरकार ने अंतर पैदा करने के लिए पदों की संख्या 500 बढ़ा दी है। पहले सरकार ने 68,500 शिक्षकों दो भर्ती का निर्णय लिया था। लेकिन पिछली 68,500 शिक्षक भर्ती में विवाद होने के कारण 6 जनवरी को होने जा रही दूसरी भर्ती परीक्षा में पद 69,000 कर दिए गए हैं। पिछली भर्ती में विवाद के चलते ही उसमें रिक्त तकरीबन 27,000 पदों को नई भर्ती में नहीं जोड़ा गया है।

No comments:

Post a Comment

योगदान करें!

सत्ता को आइना दिखाने वाली गाजीपुर समाचार पत्रकारिता जो राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. योगदान करें.

Donate Now
तत्काल दान करने के लिए, "Donate Now" बटन पर क्लिक करें।



Post Top Ad