गाजीपुर: परिषदीय विद्यालयों में कटान पीड़ितों का कैंप होने से पढ़ाई बाधित - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: परिषदीय विद्यालयों में कटान पीड़ितों का कैंप होने से पढ़ाई बाधित

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर मुहम्मदाबाद विभागीय लापरवाही व प्रशासनिक अधिकारियों की उदासीनता के साथ-साथ कटान पीड़ित परिवारों की मनमानी के चलते तहसील मुख्यालय स्थित प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालय में पठन-पाठन बाधित हो रहा है। कटान पीड़ित गांव से लाकर पशुओं आदि को भी रख दिए हैं। इतना ही नहीं पढ़ाई का समय रहने के बाद भी उनके बच्चे या परिवार के सदस्य उछल कूद मचाते रहते हैं। पूर्व माध्यमिक विद्यालय में केवल दो कमरों में पढ़ाई होती है।

वर्ष 2013 में गंगा कटान से पीड़ित परिवारों को राहत देने के लिए प्रशासन की ओर से अष्ट शहीद इंटर कालेज में राहत कैंप बनाकर रखा गया। बाढ़ का असर समाप्त होने के बाद जब कालेज प्रबंधन ने पठन-पाठन में होने वाली परेशानियों का ध्यान दिलाते हुए अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराया तो कटान पीड़ितों को वहां से हटाकर पूर्व माध्यमिक विद्यालय परिसर में कैंप बनाकर सुरक्षित किया गया। इन कैंपों में रहने वाले काफी संख्या में परिवार या तो गांव में जाकर अपना आशियाना बनाकर रहने लगे या तो अपना निजी जमीन खरीदकर अपना ठिकाना बना लिए। 

यही नहीं कटान पीड़ितों को पुनर्वासित करने के लिए शासन की ओर से करीब दो करोड़ रुपए खर्च कर शेरपुर के जलालपुर में जमीन क्रय किया गया। जमीन क्रय करने के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने तेजी दिखाते हुए पीड़ितों को लाटरी सिस्टम से जमीन का आवंटन भी शुरू किया लेकिन इसको लेकर तेज प्रयास न करने से मामला जहां का तहां रुक गया। विद्यालय का पठन पाठन का स्तर दिन ब दिन खराब होने से अब अभिभावक अपने बच्चों को इन विद्यालयों में भेजने से भी परहेज करने लगे हैं।

कई बार उच्चाधिकारियों से की गई शिकायत
विद्यालय परिसर में राहत कैंप बना दिए जाने से पठन-पाठन काफी बाधित हो रहा है। परिसर खाली करने को लेकर उच्चाधिकारियों से कई बार शिकायत की गई। अब तक कार्रवाई न होने से परेशानी हो रही है। - राघवेंद्र प्रताप सिंह, खंड शिक्षा अधिकारी।

No comments:

Post a Comment

योगदान करें!

सत्ता को आइना दिखाने वाली गाजीपुर समाचार पत्रकारिता जो राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. योगदान करें.

Donate Now
तत्काल दान करने के लिए, "Donate Now" बटन पर क्लिक करें।



Post Top Ad