यूपी में धड़ल्ले से चल रहे फर्जी बोर्ड, बांटे जा रहे हैं 10वीं और 12वीं के फर्जी सर्टिफिकेट और मार्कशीट - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

यूपी में धड़ल्ले से चल रहे फर्जी बोर्ड, बांटे जा रहे हैं 10वीं और 12वीं के फर्जी सर्टिफिकेट और मार्कशीट

गाजीपुर न्यूज़ टीम, यूपी में हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के फर्जी प्रमाणपत्र का धंधा जोरों पर चल रहा है। यूपी बोर्ड को ऐसी फर्जी संस्थाओं की शिकायतें लगातार मिल रही हैं। यूपी बोर्ड की नाक के नीचे प्रयागराज में ही फर्जी बोर्ड चल रहे हैं लेकिन कार्रवाई करने वाला कोई नहीं है। पिछले पांच महीनों में यूपी बोर्ड को जिन फर्जी संस्थाओं की शिकायत मिली है उनमें भारतीय शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश का नाम सबसे ऊपर है। 

माध्यमिक शिक्षा परिषद के नाम से मेल खाता फर्जी बोर्ड का नाम बनाकर संस्था हाईस्कूल एवं इंटर के अंकपत्र बांट रही है। माध्यमिक शिक्षा परिषद एलनगंज नाम से फर्जी संस्था भी चल रही है। इसने यूपी बोर्ड की वेबसाइट और फोन नंबर को अपने लेटर हेड पर लिख रखा है और स्वयं हाईस्कूल व इंटर के कोर्स संचालित करने का दावा कर रही है। केंद्रीय मुक्त विद्यालयी संस्थान दिल्ली के नाम से भी फर्जीवाड़ा हो रहा है। राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी संस्थान (एनआईओएस) के नाम से मिलता हुआ नाम बनाकर शातिर प्रमाणपत्र जारी कर रहे हैं।

राजकीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान उत्तर प्रदेश लखनऊ के नाम से मार्च 2016 में जारी 10वीं का फर्जी प्रमाणपत्र बोर्ड के पास सत्यापन के लिए आया है। यह प्रमाणपत्र कपूरी पासवान नाम के छात्र को शहीद भगत सिंह इंटर महाविद्यालय सनी बसंतपुर सिवान से 10वीं की परीक्षा पास करने के नाम पर जारी दिखाया गया है। जबकि ऐसे किसी बोर्ड का कोई अस्तित्व ही नहीं है।

नहीं उतरा फाफामऊ के फर्जी बोर्ड का बैनर
उत्तर प्रदेश राज्य मुक्त विद्यालय परिषद शांतिपुरम फाफामऊ के नाम से फर्जी बोर्ड चल रहा है। यह छात्र-छात्राओं को प्रमाणपत्र बांट रहा है। इसके अलावा वेबसाइट भी बना रखी है। यह डीएलएड कोर्स करवाने का भी दावा कर रहा है। हालांकि ऐसी कोई संस्था प्रदेश में मान्य नहीं है। इसका समाचार आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान ने मई में प्रमुखता से प्रकाशित किया था। उस समय यूपी बोर्ड ने नोटिस भी जारी की थी लेकिन अब तक इसका बैनर नहीं उतरा है।

नीना श्रीवास्तव (सचिव यूपी बोर्ड) ने कहा- यूपी बोर्ड के समकक्ष एवं मान्यता प्राप्त संस्थाओं की सूची हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध है। सूची से इतर किसी संस्था से जारी 10वीं-12वीं के प्रमाणपत्र अमान्य हैं। 

यूपी बोर्ड की वेबसाइट पर है सूची हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा करने के लिए देशभर में अधिकृत एवं मान्य संस्थाओं की सूची यूपी बोर्ड की वेबसाइट www.upmsp.edu.in पर 27 अक्तूबर 2016 से उपलब्ध है। उसमें उत्तर प्रदेश राज्य मुक्त विद्यालय परिषद का नाम नहीं है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad