Breaking News

गाजीपुर: युवक की हत्या कर शव गन्ने के खेत में फेंका

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर शादियाबाद थाना क्षेत्र के सराय मनिकराज के पुरवा- रामपुरजीवन निवासी युवक की रंजिशन हत्या कर दी गई। हमलावरों ने पिटाई के बाद गला रेतकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद शव को गन्ने के खेत में फेंक दिया। उसके दोनों हाथ और पैर बंधे थे, उसके शरीर पर चोटों के निशान बेरहमी से पिटाई की दास्तां सुना रहे थे। हत्या तब हुई जब वह नदी के घाट से छठ पूजा देखकर लौट रहा था।सुभाष राम की हत्या की सूचना पाकर परिजन और ग्रामीण मौके पर पहुंचे और जमकर हंगामा काटा। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन ग्रामीणों ने उनका विरोध किया। सीओ भुड़कुड़ा के समझाने पर परिजनों ने शव को पुलिस को हवाले किया। इसके बाद पुलिस ने पंचनामा की कार्रवाई पूरी कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। परिवार के लोगों ने गांव के प्रधान समेत दो अन्य लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

रविवार को सुबह शादियाबाद थाना क्षेत्र में युवक का शव मिलने से हड़कंप मच गया। सूचना मिलने के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। परिजनों ने पुलिस को शव देने से इनकार कर दिया। परिवार के लोग काफी देर तक पुलिस से नोंकझोंक शुरू हो गई। परिजनों ने युवक के शव की शिनाख्त सुभाषराम के रुप में की। बताया कि पुरवा- रामपुरजीवनगांव निवासी 35 वर्षीय सुभाष राम पुत्र बेचू राम शनिवार को घर से यह कहकर निकला कि वह छठ पूजा देखने के लिए घाट पर जा रहा है। पूरी रात वह घर नहीं आया, प्रधान की शिकायत के बाद लगातार धमकियां मिल रही थीं और रंजिशन हत्या करा दी गई।

ग्रामीणों के हंगामे की सूचना पर पुलिस बल के साथ सीओ भुड़कुड़ा महिपाल पाठक मौके पर पहुंचे। उनके समझाने पर परिजनों ने शव को पुलिस के हवाले किया। मामला शांत हुआ तो एसपी डा. अरविंद चतुर्वेदी मौके पर पहुंचे और हालात जाने। परिजनों से बात की और पुलिस टीम के साथ घटनास्थल का निरीक्षण किया। एसपी ने बताया कि युवक की गला रेतकर हत्या की गई है, हत्यारों ने जिस तरीके से मारा मामला रंजिशन ही समझ में आ रहा है। उसके दोनों हाथ रस्सी से बंधे हुए थे। मौके पर शराब की दो खाली बोतले भी बरामद हुई है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की जाएगी।

प्रधान के खिलाफ सुभाष के भाई ने की थी शिकायत
मनिहारी माह पूर्व सुभाष राम के भाई दिनेश राम ने विकास कार्याें में घपले की शिकायत शासन से की थी। इसके अलावा प्रशासनिक अधिकारियों से शिकायत कर गांव समाज की जमीन पर जबरिया अतिक्रमण करने वाले लोगों को वहां से हटवाया था। इसे लेकर प्रधान और सुभाष के परिवार के बीच में कई बार विवाद हुआ था। दिनेश का आरोप है कि प्रधान ने उससे बदला लेने की धमकी भी दी थी।

पुलिस ने एक आरोपित को हिरासत में भी ले लिया है। पुलिस अभी उससे पूछताछ कर रही है। रविवार को सपा जखनियां के विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष कमलेश यादव उर्फ भानू के नेतृत्व में पार्टी के लोग एसपी डा. अरविंद चतुर्वेदी से मिले और उन्होंने कहा कि इस घटना से प्रधान से कोई लेनादेना नहीं है। गंवई राजनीति के चक्कर में प्रधान को फंसाया जा रहा है। एसपी ने कहा कि पूरे घटनाक्रम की निष्पक्ष जांच की जा रही है। जांच के बाद जो भी दोषी पाया जायेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();