Breaking News

सेना प्रमुख नरवणे बोले- चीन और पाकिस्तान सीमा पर सतर्क रहें जवान

इस अवसर पर आर्मी चीफ नरवणे ने कहा कि भारतीय सेना के जवान आने वाली हर चुनौती से भिड़ने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी है और हम जीरो टॉलरेंस की नीति पर ही आगे बढ़ रहे हैं.
भारतीय सेना दिवस (Indian Army Day) के मौके पर सेना प्रमुख (Army Chief) मनोज मुंकुद नरवणे ने बुधवार को सैनिकों से चीन और पाकिस्तान की सीमा पर हमेशा सतर्क रहने के लिए कहा. देश को संबोधित करने से पहले आर्मी चीफ ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी. जवानों को सलाम करने के बाद उन्होंने दिल्ली में सेना दिवस परेड का भी जायजा लिया.

सेना दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत अन्य हस्तियों ने सेना को बधाई दी और जवानों को सलाम किया. इस अवसर पर तमाम गणमान्य लोगों ने इंडिया गेट के पास नए बने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक ( national war memorial) पर पहुंचकर शहीदों को नमन किया.



इस अवसर पर आर्मी चीफ नरवणे ने कहा कि भारतीय सेना के जवान आने वाली हर चुनौती से भिड़ने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी है और हम जीरो टॉलरेंस की नीति पर ही आगे बढ़ रहे हैं. एलओसी की हालत पर भी जम्मू कश्मीर के सकारात्मक माहौल का असर पड़ रहा है.



उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में स्थिति सामान्य है. आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद बॉर्डर मैकेनिज्म पर ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है. इससे पड़ोसी देश की ओर से चलाई जा रही है प्रॉक्सी वॉर (छंद युद्ध) को भी चुनौती मिलेगी और उसके प्लान धराशायी होंगे.


आर्मी चीफ ने कहा कि देशवासियों के दिल में सेना के लिए एक विशेष स्थान है. हमारी कोशिश नाम-नमक और निशान के नारे पर खरा उतरने की है. उन्होंने कहा कि हम सेना में जाति-धर्म-क्षेत्र के आधार पर भेदभाव नहीं करते हैं. सेना सिर्फ कर्तव्य के पथ पर ही आगे बढ़ती है.



जनरल नरवणे ने भविष्य की चुनौतियों को लेकर कहा कि भारतीय सेना भविष्य में सभी तरह की जंग के लिए तैयार है. हमारी सेना साइबर-स्पेशल ऑपरेशन पर भी काम कर रही है. जवानों को आधुनिक हथियार मुहैया कराए जा रहे हैं. इस साल भी नए हथियार की खेप सेना को मिलने वाली हैं. इन हथियारों में रायफल से लेकर मिसाइल तक शामिल हैं. इसके अलावा हम अंतरराष्ट्रीय सहयोग भी बढ़ा रहे हैं.

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();