गाजीपुर में दोबारा बवाल, एसआई समेत चार पुलिसकर्मी घायल - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, Ghazipur News, गाजीपुर खेल समाचार, गाजीपुर राजनीति न्यूज़, Ghazipur Crime News

Breaking News

Post Top Ad

Post Top Ad

सोमवार, 3 फ़रवरी 2020

गाजीपुर में दोबारा बवाल, एसआई समेत चार पुलिसकर्मी घायल

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर सुहवल थानाक्षेत्र के सरैयां व कासिमपुर गांव के लोगों के बीच शनिवार को हुए संघर्ष ने रविवार को दोबारा बवाल का रूप धारण कर लिया। दोनों गांव के दर्जनों लोग लामबंद होकर आमने सामने हो गये और पथराव शुरू हो गया। इस दौरान एक एसआई समेत चार पुलिसकर्मी घायल हो गए। सूचना मिलने के बाद एएसपी ग्रामीण समेत कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची। पुलिस अधिकारियों ने दोनों गांवों के लोगों को समझाकर बवाल शांत कराया। शुक्रवार की रात दोनों गांव के युवकों के बीच सरस्वती प्रतिमा स्थापित करने और नाटक का मंचन करने को लेकर विवाद हुआ था। शनिवार को दोनों गांव के लोग आपस में भिड़ गए थे। इस दौरान जमकर लाठी-डंडे व ईंट-पत्थर चले थे। 

जिसमें करीब दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए थे। ग्रामीणों ने मुख्य मार्ग पर भी जाम कर दिया था जो करीब तीन घंटे तक रहा। बवाल के बाद दोनों गांवों में पुलिसफोर्स तैनात कर दी गई थी। रातभर तो शांति बनी रही, लेकिन रविवार की सुबह करीब आठ बजे किसी ने अफवाह फैला दी कि कासिमपुर गांव के कुछ युवक सरैयां गांव में घुसकर मारपीट कर रहे है। इस पर दोनों गांव के लोग दोबारा बवाल करने पर आमादा हो गए। दोनों तरफ से ईंट व पत्थरों की बारिश होने लगी। इस दौरान एसआई बलवंत यादव समेत सिपाही लालब्रत, विजय कुमार व रघुवंश राय घायल हो गए। एक बार फिर दोनों गांवों में अफरा-तफरी का माहौल बन गया। सूचना मिलते ही कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई। 


एएसपी देहात चंद्रप्रकाश शुक्ल ने पीएसी के जवानों के साथ दोनों गांवों में चक्रमण किया और सभी से शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की। हालांकि कुछ ही देर में पुलिस ने हालात पर काबू पा लिया। 22 पर मुकदमा दर्ज, दस आरोपित गिरफ्ताररेवतीपुर। बहुचर्चित सरैयां-कासिमपुर कांड में सुहवल एसओ अवधेश सिंह की तहरीर पर सरैयां गांव के प्रधान व कासिमपुर गांव के पूर्व प्रधान समेत 22 नामजद व 300 अज्ञात लोगों के खिलाफ बलवा, सरकारी कार्य में बाधा उत्पंन करना, राजमार्ग जाम करना, जानलेवा हमला समेत 7 सीएल एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

पुलिस ने इस मामले में दस नामजद आरोपितों को शनिवार की रात में ही गिरफ्तार कर लिया है। रविवार को गिरफ्तार आरोपितों को कोर्ट में पेश करने के बाद पुलिस ने जले भेज दिया है। इसी क्रम में सरैयां गांव की रहने वाली एक महिला की तहरीर पर पुलिस ने कासिमपुर गांव के 36 लोगों पर नामजद व करीब तीन दर्जन अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया है। वहीं दूसरी ओर कासिमपुर गांव के कुछ लोगों की तहरीर पर पुलिस ने दर्जनों लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। अज्ञात चेहरों को सामने लाने में जुटी पुलिसरेवतीपुर। इस घटना में शामिल अज्ञात लोगों का चेहरा प्रकाश में लाने के लिए पुलिस हर सम्भव प्रयास कर रही है। 


इसके लिए पुलिस ने दोनों गांवों में अपने मुखबिरों को भी लगा दिया है। फरार चल रहे नामजद आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस लगातार दबिश डाल रही है। पुलिस किसी भी सूरत में बवाल को बढ़ने नहीं देना चाहती है। इसके लिए फोर्स दोनों गांव में चप्पे-चप्पे पर तैनात है। पीएसी के जवानों ने कैम्प बना लिया है। दोनों गांव में संनाटा छाया हुआ है। रविवार को भी चट्टी की कोई भी दुकान का शटर नहीं खुलासा। 

इस घटना की चर्चा पूरे क्षेत्र में ही रही है। समय-सयम पर पुलिस अधिकारी दोनों गांवों का चक्रमण कर रहे है। कोटजिसने भी रविवार को अफवाह फैलाकर अशांति फैलाने की कोशिश की है। उसे चि्ह्तित कर जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा। गांव में पूरी तरह शांति है। पथराव के दौरान कुछ पुलिसकर्मी मामूली रूप से चोटिल हुए है। जल्द ही सभी बवालियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जायेगा। चंद्रप्रकाश शुक्ल- एएसपी देहात

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad