लॉकडाउन में सरकार की सप्लाई चेन का आज पहला इम्तिहान, सरकार मुस्तैद - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Purvanchal News | UP Samachar in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Purvanchal News | UP Samachar in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, Ghazipur News, Purvanchal News, Uttar Pradesh News, UP Breaking News

Breaking News

Post Top Ad

Post Top Ad

बुधवार, 25 मार्च 2020

लॉकडाउन में सरकार की सप्लाई चेन का आज पहला इम्तिहान, सरकार मुस्तैद

गाजीपुर न्यूज़ टीम, लखनऊ, वैश्विक महामारी का रूप धारण कर चुके कोरोना वायरस के संक्रमण के कहर को थर्ड स्टेज में रोकने की खातिर देश में 21 दिन का लॉकडाउन अब प्रदेश सरकार की बड़ी चुनौती है। सरकार ने इस बड़े संकट से उबरने की खातिर प्रदेश में दस हजार सरकारी वाहनों से घर-घर आवश्यक वस्तुओं को पहुंचाने की व्यवस्था की है।

देश तथा प्रदेश में 21 दिन के लॉकडाउन के दौरान जनता को घर से निकलने की कतई मनाही है। इस दौरान सरकार का भी बड़ा इम्तहान होगा। इस दौरान देखा जाएगा कि पहले दिन सप्लाई चेन कितनी कारगर रही। लखनऊ के जिलाधिकारी जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि जरूरी सेवाएं सुबह 6 बजे से लेकर रात 11 बजे तक मिलेगी। इसके साथ ही कोरोना वायरस से लडऩे में सरकार का सहयोग कीजिये। लखनऊ में पेट्रोल पम्प 24 घण्टे तक खुलेंगे।

मुख्यमंत्री ने की कोरोना से निपटने के बंदोबस्त की समीक्षा
अयोध्या से लौटने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना को लेकर प्रदेश में हो रहे इंतजाम की समीक्षा की। उन्होंने युद्ध स्तर पर व्यवस्थाएं करने के निर्देश देने के साथ ही बैठक में अफसरों से कहा कि कहीं भी लोगो को कोई परेशानी न होने पाए। 

चरम पर अराकजता 
संकट के दौर में भी अराकजता चरम पर है। सरकार की तमाम बंदिशों तथा चेतावनी के बाद भी कालाबाजारी बढ़ रही है। डायल 112 पर काला बाजारी की भी शिकायतें बढ़ी हैं। मंगलवार को ऐसी करीब 300 कॉल आई थी। इतनी बड़ी संख्या में कॉल एक गंभीर संकेत है। डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने इन शिकायतों पर अधिकारियों को दिए गहन जांच कर करवाई के निर्देश। लॉकडाउन को देखते हुए पुलिस अब सख्ती बढ़ा रही है।

कोरोना वायरस के प्रकोप से बचाव के लिए मंगलवार को 272.5 करोड़ रुपए जारी करने के बाद सरकार ने बुधवार को चिकित्सा सुविधाओं को सुदृढ़ करने के लिए 50 करोड़ रुपए और जारी किए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad