Breaking News

गोरखपुर में पुलिस टीम पर पथराव- सीओ समेत कई घायल, आठ वाहन क्षतिग्रस्‍त

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गोरखपुर, चचेरे भाइयों दिवाकर और कृष्णा की हत्या करने वालों की 72 घंटे बाद भी गिरफ्तारी न होने से खफा परिजन व ग्रामीण उग्र हो गए। उन्होंने देवरिया मार्ग पर रामनगर कडज़हां गांव के पास दिन में ढाई बजे से जाम लगाकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। खोराबार पुलिस ने समझा-बुझाकर जाम खुलवाने का प्रयास किया, तो ग्रामीणों ने पथराव शुरू कर दिया। पथराव इतना जबरदस्त था कि पुलिस कर्मियों को जान बचाकर भागना पड़ा।

बाद में अतिरिक्त पुलिस बल के साथ पहुंचे एसएसपी और एसपी सिटी ने लाठी भांजकर स्थिति को काबू किया। पथराव में सीओ सहित कई पुलिसकर्मी चोटिल हो गए। पुलिस की दो गाडिय़ां, रोडवेज की चार बसें और दो निजी कार भी क्षतिग्रस्त हो गई। रोडवेज बस में सवार कुछ यात्रियों को भी चोटें आई हैं। जाम लगाने और पथराव करने के आरोप में 10 लोग हिरासत में लिए गए हैं।

हत्‍यारोपितों की गिरफ्तारी न होने से आक्रोशित थे लोग
रामनगर कडज़हां निवासी चचेरे भाइयों की रविवार को झंगहा इलाके में नदी किनारे शराब पार्टी में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मामले में आरोपितों की अभी तक गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। गिरफ्तारी की मांग को लेकर परिजनों ने ग्रामीणों के साथ गांव के सामने देवरिया मार्ग पर जाम लगाकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। कुछ ही देर में दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई। करीब एक घंटे बाद पहुंची खोराबार पुलिस ग्रामीणों को समझाकर जाम खुलवाने का प्रयास करने लगी। इसी बीच सीओ कैंट सुमित शुक्ल भी पहुंचे और बदमाशों की जल्दी गिरफ्तारी का भरोसा देकर जाम खुलवाने का प्रयास करने लगे। इसी बीच प्रदर्शन में शामिल लोगों ने पुलिस वालों पर पथराव शुरू कर दिया। जान बचाने के लिए पुलिस वालों को करीब एक किलोमीटर पीछे भागना पड़ा। इसके बाद एसएसपी डॉ.सुनील गुप्त, एसपी सिटी डॉ.कौस्तुभ, एसपी नार्थ अरङ्क्षवद पांडेय, सीओ चौरीचौरा रचना मिश्रा अतिरिक्त पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। इस बीच खोराबार के अलावा चौरीचौरी और झंगहा थाने की पुलिस भी आ गई।

हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कुछ लोगों ने रास्ता जाम कर दिया था। जाम खत्म कराने का प्रयास करने पर भीड़ उग्र हो गई और लोग पथराव करने लगे। बल प्रयोग कर स्थिति को काबू किया गया। 10 लोग हिरासत में लिए गए हैं। पथराव करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। - सुमित शुक्ल, सीओ कैंट। 

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();