Breaking News

गरीबों को अगस्त तक मुफ्त राशन के साथ भत्ता भी मिलेगा : CM योगी आदित्यनाथ

गाजीपुर न्यूज़ टीम, मिर्ज़ापुर. कोविड संकट से जूझ रहे गरीबों को उत्तर प्रदेश सरकार अगस्त तक मुफ्त अनाज के साथ ही भत्ता भी देगी। भत्ते की राशि अगले माह गरीबों को मिल जाएगी। मंगलवार को मिर्जापुर पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने पत्रकारों से बातचीत में ये बातें कहीं।। इससे पहले सीएम ने मंडलीय अस्पताल में आक्सीन प्लांट का उद्घाटन किया।

मिर्जापुर में जनप्रतिनिधियों और अफसरों के साथ समीक्षा बैठक करने के बाद आयोजित प्रेसवार्ता में मुख्यमंत्री ने कहा कि जून तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों को मुफ्त राशन दिया जा रहा है। इसके बाद जुलाई और अगस्त माह में प्रदेश सरकार की ओर से गरीबों को मुफ्त राशन और भत्ता दिया जाएगा। इसके तहत रेहड़ी, पटरी वाले, नाई, मोची लुहार समेत अन्य गरीबों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि कोविड की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए वैक्सीनेशन, जांच और अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाई जाएगी। साथ ही कॉमन सर्विस सेंटर से जल्द ही वैक्सीनेशन को जोड़ा जाएगा, जिससे लोगों को टीकाकरण कराने में सुविधा हो।


सीएम योगी ने कहा कि हमने पूर्ण लॉकडाउन नहीं लगाया है बल्कि कोरोना कर्फ्यू लगाया है। इसमें उद्योग धंधे संचालित हैं, मंडियां खुल रही हैं। खेती किसानी का कार्य भी चल रहा है। किसी को दिक्कत नहीं होने दी जा रही है। लेकिन कोरोना को मात देने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क जरूरी है। उन्होंने लोगों से वैक्सीन लगवाने की अपील करते हुए कहा कि जब जिस सेंटर पर बुलाया जाए, वहां जा कर वैक्सीन लगवा लें। कोरोना की लड़ाई में वैक्सीन हमारा सुरक्षा कवच है।


1 जून से सभी जिलों में 18 प्लास को टीका

सीएम ने कहा कि एक जून से प्रदेश के 75 जिलों में 18 से 44 लोगों को वैक्सीन लगायी जाएगी। उन्होंने बताया कि सेकेण्ड वेब में बड़ी संख्या में फ्रंट लाइन वर्कर, चिकित्सक और अधिकारी संक्रमित हुए। उत्तर प्रदेश में 25 अप्रैल से एक मई तक एक लाख कोविड मरीजों के संख्या प्रतिदिन होने की आशंका जताई गई थी, लेकिन संक्रमितों की संख्या 38 हजार से आगे नहीं बढ़ने दिया गया। प्रदेश में 80 हजार वेंटिलेटर व बेड मौजूद हैं। टेस्ट की संख्या 4.70 करोड़ और 1.65 करोड़ लोगों का वैक्सीनेशन हो चुका है।


सेकेंड वेब में 50 गुना ज्यादा संक्रमण

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड की पहली लहर में हमारे पास लैब तक नहीं थे। जांच के लिए सैँपल पुणे भेजा जा रहा था। अब यह स्थिति नहीं है। प्रदेश में कोविड लैब की संख्या पर्याप्त है। सेकेंड वेब में संक्रमण का दर 30 से 50 गुना अधिक था। आक्सीजन की डिमांड हुई। आक्सीजन की डिमाण्ड केंद्र सरकार की मदद से पूरी की गई। प्रत्येक जिले में आक्सीजन प्लांट लगाया जा रहा है। इसके लिए नोडल अधिकारी की तैनाती कर दी गई है ताकि वह आक्सीजन प्लांट की मानीटरिंग कर सके।


ऑक्सीजन प्लांट का किया उद्घाटन

इससे पहले सीएम ने मंडलीय अस्पताल में आक्सीन प्लांट का उद्घाटन किए। इस दौरान उर्जा राज्यमंत्री रमाशंकर सिंह पटेल, सांसद अनुप्रिया पटेल,विधायक रत्नाकर मिश्र,अनुराग सिंह, सुचिश्मिता मौर्य, राहुल कोल, नपाध्यक्ष मनोज जायसवाल, कमिश्नर योगेश्वर राम मिश्र, डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार, सीडीओ श्रीलक्ष्मी वीएस आदि मौजूद रही। इसके बाद विड इंटीग्रेटेड कमाण्ड सेंटर व मण्डलीय अस्पताल के पोस्ट कोविड वार्ड में भर्ती मरीजों से बात भी की। साथ ही सिटी ब्लाक के नुआंव गांव का निरीक्षण किए। वहीं नगर के पथरहिया स्थित कमिश्नरी सभागार में जिले के जनप्रतिनिधियों व अफसरों के साथ समीक्षा बैठक की। इसमें भदोही और सोनभद्र जिलों के अफसर वर्चुअल शामिल हुए।


बच्चों के माता-पिता को पहले टीका

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि थर्ड वेब में बच्चों को कोरोना से बचाने के लिए 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को भी प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन लगाई जाएगी। ऐसी अभिभावकों को चिह्नित कर उनका शत प्रतिशत टीकाकरण करने का निर्देश दिया गया है। यह कार्य शीघ्र ही पूरा कर लिया जाएगा।


आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों और आशाओं को दिए निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सिटी ब्लाक के नुआंव गांव के प्राथमिक विद्यालय पर चौपाल लगा कर आशा व आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को गांव में साफ-सफाई और वैक्सीनेशन कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सफाई अभियान अनवरत जारी रहे। मुख्यमंत्री ने एक महिलाओं को बेहतर ढंग से मास्क लगाने की सलाह दी। कहा कि मास्क को मुंह के ऊपर नाक तक लगाया जाए। गर्मी होने पर विद्यालय में मुख्यमंत्री ने डीएम से पंखा की व्यवस्था करने को कहा। इसके बाद वे गुरुसण्डी पीएचसी का निरीक्षण करने के लिए रवाना हो गए।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();