गाजीपुर: शहर की बड़ी आबादी के लिए सुखद खबर, पुराने अस्पताल में फिर शुरू होगी इमरजेंसी - गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़ : Ghazipur News in Hindi, ग़ाज़ीपुर न्यूज़ इन हिंदी

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: शहर की बड़ी आबादी के लिए सुखद खबर, पुराने अस्पताल में फिर शुरू होगी इमरजेंसी

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर शहर के खासकर पूर्वी तथा उत्तरी हिस्से की बड़ी आबादी के लिए सुखद खबर है। पुराने जिला अस्पताल में फिर से इमरजेंसी सेवा बहाल होगी। नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन  एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता विनोद अग्रवाल की पहल पर अस्पताल प्रशासन ने यह फैसला किया है। सीएमओ गिरिशचंद्र मौर्य प्रसाद ने यह बात कबूली। कहे कि पुराने अस्पताल में प्राइमरी इमरजेंसी की सेवा उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि यह व्यवस्था स्थानीय स्तर पर ही हो रही है। 

शासन से इसके लिए कोई आदेश नहीं मिला है। इस मामले में प्रदेश का शायद गाजीपुर पहला जिला होगा जहां 200 बेड के हॉस्पिटल के बावजूद प्राइमरी इमरजेंसी की सेवा कहीं और उपलब्ध कराई जाएगी। एक  सवाल पर उन्होंने कहा कि कोशिश है कि प्राइमरी इमरजेंसी में चार डाक्टरों की ड्यूटी लगाई जाए। वैसे तो सुबह आठ से शाम दो बजे तक ही प्राइमरी इमरजेंसी चलाने की तैयारी थी लेकिन राजनीतिक दबाव है कि यह सेवा 24 घंटे बहाल रहे। हालांकि मानव संसाधन की भी कमी है। 

उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि प्राइमरी इमरजेंसी में केवल फस्ट एड की सुविधा मिलेगी। रोगी को भर्ती करने का काम गोराबाजार स्थित नए अस्पताल भवन की इमरजेंसी वार्ड में होगा। बताए कि प्राइमरी इमरजेंसी का संचालन 27 या 28 मार्च से शुरू होगा। पुराने अस्पताल में इमरजेंसी सेवा बहाल रखने की मांग को लेकर केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के बैनर तले पुराने अस्पताल के सामने राय कटरा में गुरुवार की शाम बैठक हुई थी। उस बैठक में उद्योग व्यापार मंडल, सर्रफा व्यापार मंडल, कपड़ा व्यापार मंडल के अलावा समाजसेवी संस्थाएं, सिविल बार एसोसिएशन आदि के प्रतिनिधियों ने पुराने भवन में इमरजेंसी सेवा हटाने पर आक्रोश जताया था। बैठक में नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन विनोद अग्रवाल ने कहा था कि फिर से पुराने भवन में इमरजेंसी सेवा बहाल होगी। 

बैठक में समाजसेवी विवेक कुमार सिंह शम्मी, अबू फकर खां, अशोक अग्रहरि, असलम खां, विजय शंकर वर्मा, श्याम बिहारी मिश्र, दिनेश वर्मा, कैलाश नाथ वर्मा, दीपक उपाध्याय, महेंद्र सिंह, बबलू, अब्बास, राना, अनिस, अशोक, पप्पू आदि प्रमुख  लोग मौजूद थे। मालूम हो कि गोराबाजार में नए अस्पताल भवन का हस्तांतरित होने के बाद अस्पताल प्रबंधन ने सबसे पहले वहां इमरजेंसी विभाग को ही शिफ्ट किया था।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad