गाजीपुर: सहायक शिक्षा निदेशक रेवतीपुर ब्लाक में धमके, कई एडेड स्कूलों में मिली खामियां - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: सहायक शिक्षा निदेशक रेवतीपुर ब्लाक में धमके, कई एडेड स्कूलों में मिली खामियां

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर सहायक शिक्षा निदेशक (बेसिक) मुनेश कुमार शनिवार को भी कई विद्यालयों का औचक निरीक्षण किए। वह सीधे गंगा पार रेवतीपुर ब्‍लाक क्षेत्र में पहुंचे थे। उन्‍होंने एडेड स्‍कूलों सहित कस्‍तूरबा विद्यालय का भी जायजा लिया। एडेड स्‍कूलों में कई खामियां मिलीं। इसके लिए वह स्‍कूल प्रबंधकों से अपने मुख्‍यालय वाराणसी मय अभिलेख आने को कहे। औचक निरीक्षण में सहायक निदेशक सबसे पहले हाईस्कूल सुहवल पहुंचे। जहां पंजीकृत संख्‍या के सापेक्ष छात्रों की संख्‍या कम मिली। मध्याह्न भोजन व्‍यवस्‍था में भी गड़बड़ी मिली। फिर वह यशोदा शिवकाली बालिका विद्यालय रेवतीपुर, लघु माध्यमिक विद्यालय उतरौली, लघु माध्यमिक विद्यालय गोहदां का भी निरीक्षण किए। कमोवेश वही खामियां उन विद्यालयों में भी मिलीं। 

इसी क्रम में सहायक शिक्षा निदेशक रेवतीपुर ब्लाक संसाधन केंद्र तथा कस्‍तूरबा विद्यालय भी देखे। संसाधन केंद्र पर तैनात विभागीय कर्मियों को उन्‍होंने निर्देश दिया कि शासन की मंशा के अनुरूप योजनाओं का नियमित संचालन किया जाए। इसमें किसी तरह की लापरवाही अक्षम्‍य होगी। कस्तूरबा विद्यालय में उपस्थिति तथा नामांकन पंजिका वगैरह देखे। छात्राओं की शैक्षणिक गुणवक्‍ता भी परखे। बाद में गाजीपुर न्यूज़ टीम से बातचीत में उन्‍होंने कहा कि एडेड विद्यालयों पर कुछ कमियां मिलीं। लिहाजा उनके प्रबंधकों को मय अभिलेख अगले सप्‍ताह पेश होने को उन्‍होंने कहा है। कस्‍तूरबा विद्यालय की चाहरदिवारी की ऊंचाई रेवतीपुर ग्राम प्रधान ने अपनी पंचायत के फंड से बढ़वाई है। इसके लिए वह ग्राम प्रधान को धन्‍यवाद दिए। 

सा‍थ ही विद्यालय भवन की रंगाई-पोताई, फर्श वगैरह की मरम्‍मत के लिए विभागीय अधिकारियों को उन्‍होंने निर्देशित किया है। सहायक निदेशक ने कहा कि उनका औचक निरीक्षण का क्रम जारी रहेगा। इस औचक निरीक्षण से परिषदीय तथा एडेड विद्यालयों के शिक्षकों व अन्‍य कर्मचारियों में हड़कंप की स्थिति बन गई है। खास यह कि सहायक निदेशक के औचक निरीक्षण के बाबत बीएसए ऑफिस को भी कोई सूचना नहीं मिल रही है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad