Breaking News

गाजीपुर: आजमगढ़ में अखिलेश यादव की होगी ऐतिहासिक जीत: राधेमोहन सिंह

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर सपा के पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह का कहना है कि पार्टी मुखिया अखिलेश यादव को लेकर सवाल यह नहीं कि आजमगढ़ संसदीय सीट पर उनकी जीत होगी या नहीं। असल सवाल यह है कि उनकी जीत का अंतर कितने वोटों का होगा।

मालूम हो कि सपा उन्हें आजमगढ़ संसदीय क्षेत्र में मेहनगर के चुनाव अभियान का प्रभारी बनाई है। गठबंधन के साथी अखिलेश यादव के लिए बसपा मुखिया मायावती और रालोद प्रमुख चौधरी अजीत सिंह बुधवार को आजमगढ़ पहुंचे थे। उन्होंने अखिलेश यादव संग साझी चुनावी रैली की। राधेमोहन सिंह के मुताबिक रैली के कई मतलब निकले। पहला यह कि सपा मुखिया अखिलेश यादव की शानदार जीत पर मुहर लग गई। रैली बता दी कि अब पूर्वांचल में भी भाजपा की दाल नहीं गलेगी। उसकी नौटंकी नहीं चलेगी। 

रैली साबित कर दी कि सपा, बसपा और रालोद का गठबंधन जमीनी स्तर पर भी कबूल है। रैली इस बात का भी जवाब थी कि गठबंधन के नेतृत्व समूह के तीनों शीर्ष नेताओं में अहम का कोई टकराव नहीं होगा। मंच पर बसपा मुखिया मायावती के प्रति सपा मुखिया अखिलेश यादव का सम्मान और मयावती का अखिलेश के प्रति आगाध स्नेह था। फिर मायावती और रालोद प्रमुख चौधरी अजीत सिंह की कानाफूसी यह बता रही थी कि उनमें एक दूसरे के लिए सहमति बन चुकी है। बसपा मुखिया मायावती का रैली में मौजूद अपनों से यह कहना कि आजमगढ़ में अखिलेश नहीं वह खुद लड़ रही हैं। यह बता दिया कि बसपा मुखिया अखिलेश यादव को लेकर वह कितनी गंभीर हैं। उनके दिल में अखिलेश यादव के लिए कितनी जगह है।

राधेमोहन सिंह ने कहा कि आजमगढ़ की उस ऐतिहासिक रैली की भीड़ में पैसे पर लुटाए लोग नहीं थे। भीड़ में मजदूर, किसान थे। पिछड़े, अति पिछड़े थे। दलित, अति दलित थे। अगड़े, गरीब थे। भीड़ में गठबंधन के लिए जज्बा था। संकल्प था। रैली में गठबंधन के नेतृत्व समूह के नेताओं ने किसानों, गरीबों की बदहाली और बेरोजगारी के मुद्दा उठाकर यह बता दिया कि उनका एजेंडा क्या है। रैली में नरेंद्र मोदी सहित भाजपा नेताओं की ड्रामेबाजी जुमलेबाजी की चर्चा पर मौजूद जनसमूह की तालियों ने जता दिया कि उन्हें भाजपा के असल चरित्र का अंदाजा हो चुका है। अब वह उसके छलावे में आने वाले नहीं हैं।

सपा के पूर्व सांसद ने कहा कि आजमगढ़ में सपा के विकास कार्यों का डंका बज रहा है। वहां नेताजी (मुलायम सिंह यादव) के सांसद रहते चौतरफा विकास हुआ है। चिकित्सा, शिक्षा, सड़क की सुविधाएं मुहैया कराई गईं। यहां तक कि हवाई मार्ग की सुविधा भी उपलब्ध हुई। बंद चीनी मिल चालू हुई।

पूर्व सपा सांसद राधेमोहन सिंह ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि गैर सियासी सेलिब्रिटी (दिनेश लाल यादव निरहुआ) को टिकट देकर वह आजमगढ़ का अपमान की है। वह चुनाव हारने के बाद सीधे मुंबई के लिए जहाज पकड़ लेंगे। उनका आजमगढ़ से फिर कोई वास्ता नहीं रह जाएगा। श्री सिंह इस रैली की सफलता के लिए खूब मेहनत किए थे। रैली से दो दिन पहले पार्टी सांसद तेजप्रताप यादव के साथ कई नुक्‍कड़ सभाएं तक किए थे। उसका नतीजा भी निकला। रैली में उमड़े जनसमूह से गठबंधन के नेता गदगद थे।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();