गाजीपुर: 24 घंटे तक ठप रही जिले की बिजली आपूर्ति - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: 24 घंटे तक ठप रही जिले की बिजली आपूर्ति

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर जिले में बुधवार की रात से शुरू हुई तेज बारिश के साथ ही बिजली गुल हो गई और गुरुवार की रात आठ बजे तक नहीं आई। बारिश के कारण विद्युत व्यवस्था ध्वस्त हो गई। जगह-जगह तार व पोल गिर गए तो कई उपकेंद्रों में बारिश में पानी घुस गया। पूरे दिन विद्युतकर्मी मरम्मत करते रहे, लेकिन रात आठ बजे तक सफलता नहीं मिल पाई थी। नगर क्षेत्र में रात आठ से पूरी रात आपूर्ति ठप रही। गुरुवार की सुबह बीच-बीच में कुछ देर के लिए आई, लेकिन रौजा और ग्रामीण क्षेत्रों की बिजली एकदम से गायब रही। इससे लोगों की परेशानी बढ़ गई है। नई लाइन लोगों के लिए बनी है मुसीबत

मुहम्मदाबाद : 132 केवीए कुंडेसर उपकेंद्र से नगर के नए उपकेंद्र पर विद्युत आपूर्ति के लिए बनाई गयी 33 हजार केवीए की लाइन नगरवासियों के परेशानी का सबब बन गई है। हालत यह है कि हल्की बारिश होने या हवा चलते ही यह लाइन कहीं न कहीं ट्रिप करना शुरू कर दे रही है। 33 हजार की लाइन में खराबी आने से नगर में बुधवार की शाम करीब चार बजे से बंद आपूर्ति गुरुवार को दोपहर बाद तक बहाल नहीं हो सकी थी।

नगर में करीब पांच वर्ष पूर्व नये 33 केवीए का उपकेंद्र बनाए जाने के बाद इसके लिए नए सिरे से 33 हजार की लाइन बनाई गई। इससे कुंडेसर से आपूर्ति इस उपकेंद्र पर मिलती है। लाइन बनाने में विभागीय उच्चाधिकारियों व टेक्निशियनों की उदासीनता का आलम यह रहा है कि जिस रास्ते से लाइन लाया गया उसके बीच जगह-जगह पेड़ व बसवार हैं। इसको लेकर उस समय लोगों ने आवाज भी उठाया था लेकिन सबकी बातों को अनसुनी कर लाइन बनाकर उससे आनन-फानन में आपूर्ति बहाल कर दी गई। 

अब हालत यह है कि जब भी सामान्य से थोड़ा तेज हवा चलना शुरू हो रहा है या बारिश शुरू हो रही है तो कुंडेसर उपकेंद्र व कबीरपुर के बीच कहीं न कहीं तार से पेड़ की टहनी या बांस टकराकर आपूर्ति को बाधित कर दे रहे हैं। बुधवार को बारिश शुरू होते ही 33 हजार की लाइन में खराबी आने से आपूर्ति ठप हो गई। बरसात के दिनों में लोगों को पूरी रात अंधेरे में बिताना पड़ा। अवर अभियंता सतीश चौहान ने बताया कि इसको लेकर वह गंभीर हैं। प्रयास किया जा रहा है कि पेड़ आदि सटने से आपूर्ति प्रभावित न हो। ध्वस्त हो गया बीएसएनएल का नेटवर्क

जखनियां : स्थानीय कस्बा सहित ग्रामीण क्षेत्र में बीएसएनएल का नेटवर्क तीन दिनों से लगातार खराब होने के चलते लोगों के हाथ का मोबाइल खिलौना बन गया है। बुधवार से ही नेटवर्क खराब हुआ जो गुरुवार को भी ठीक नहीं हो सका। जिसके चलते यूबीआइ, एलआइसी में लेन-देन तक नहीं हो सके। इस संबंध में जेई जितेंद्र प्रसाद ने बताया कि यह तकनीकी खराबी नहीं है, बल्कि विद्युत आपूर्ति नहीं होने के चलते टेलीफोन केंद्र की मशीनें नहीं चल पा रही हैं। जेनरेटर के संबंध में पूछे जाने पर बताया कि डीजल की व्यवस्था नहीं है कि जेनरेटर नियमित रूप से चलाया जाए। विद्युत आपूर्ति बहाल होने के बाद ही नेटवर्क की समस्या ठीक हो पाएगी। दो दिन से ठप है दर्जनों गांवों की आपूर्ति

गहमर : गांव के 33/11 कामाख्या विद्युत उपकेंद्र से 24 घंटे से विद्युत आपूर्ति बंद रहने से दर्जनों गांव अंधेरे में डूबे रहे। बुधवार के दिन और पूरी रात व गुरुवार को दिन में दोपहर तक लगातार बिजली सप्लाई पूर्ण रूप से बंद रही। क्षेत्रीय नागरिकों का कहना है कि यदि विद्युत सप्लाई में सुधार नहीं आया तो यहां के नागरिक मजबूरन सड़क पर उतरने के लिए मजबूर हो जाएंगे। जेई रामप्रवेश चौहान ने बताया कि रात में आंधी पानी के चलते विद्युत आपूर्ति बाधित है। फाल्ट को खोजा जा रहा है। जल्द ही इसे ठीक कर आपूर्ति सुचारु रुप से बहाल कर दिया जाएगा। हाईटेंशन तार पर पेड़ गिरने से आपूर्ति बाधित

बिरनो : दाड़ीकला और बघोल गांव में 33 हजार हाइटेंशन तार पर पेड़ गिरने से बुधवार की सुबह 10 बजे से ही उपकेंद्र के 150 गांवों की विद्युत आपूर्ति बाधित है। 36 घंटे बाद भी गुरुवार की शाम चार बजे तक सप्लाई बहाल नहीं हो सकी थी। उपभोक्ता ऋषभदेव सिंह, संतोष सिंह, पप्पू विश्वकर्मा, कैलाश यादव आदि ने बताया कि विभागीय लापरवाही के कारण अधिकतर आपूर्ति फाल्ट में चली जाती है। बरही फीडर के पलहीपुर में भी 11 हजार वोल्ट का तार टूट गया है। उपभोक्ताओं ने सुचारू ढंग से विद्युत आपूर्ति संचालित करने की मांग की है। इस संबंध में जेई महेंद्र कुमार मौर्या ने बताया कि बारिश से कई जगह तार और खंभे टूटे हैं। मरम्मत का कार्य चल रहा है जल्द ही आपूर्ति बहाल कर दी जाएगी। खेत में गिरे हाईटेंशन तार के खंभे

जमानियां : स्थानीय उपकेंद्र से जुड़े स्टेशन बाजार फीडर का गुरुवार की रात दो बजे बड़ेसर और बूढ़ाडीह गांव के पास बारिश के कारण दो हाईटेंशन पोल खेत में गिर गया। इससे स्टेशन बाजार फीडर से जुड़े स्टेशन बाजार सहित मदनपुरा, बरुईन, डिग्री, हेतिमपुर, बड़ेसर, गढ़ही व करजही गांव में 12 घंटे से विद्युत आपूर्ति ठप है। बिजली नहीं मिलने से स्टेशन बाजार में पेयजल की परेशानी बढ़ गयी है। उपखंड अधिकारी वीके राव ने बताया की बारिश के कारण खेत में दो हाईटेंशन पोल तार सहित गिर गया है। कर्मचारियों को ट्रैक्टर के साथ मौके पर भेजा गया है, ताकि आपूर्ति बहाल हो सके।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad