Breaking News

गाजीपुर: भारतीय शिक्षा के प्रणेता थे जू देव- डीएम

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर ब्रिटीश हुकूमत से आज़ाद होने के बाद सामाजिक चिंतक राजर्षि उदय प्रताप सिंह ‘जू‘ देव ने पश्चिमी शिक्षा पद्धति को त्याग भारतीय शिक्षा पद्धति अपनाने की बात कही थी। राजर्षि का जन्म 3 सितंबर 1850 को भिनगा स्टेट में हुआ था। उदय प्रताप को सामाजिक सरोकारों के कारण राजा और ऋषि दोनो के समतुल्य माना गया और उन्हें राजर्षि की उपाधि दी गयी। राजर्षि उदय प्रताप का जन्मोत्सव मनाने के लिए जनपद के आदर्श इण्टर कालेज सभागार में राजर्षि बाल विद्या मंदिर एवं आदर्श इंटर कालेज के विद्यार्थियों ने संयुक्त रूप  मनाया। 

इस अवसर पर बच्चों ने  अपने प्रस्तुति से साभार में मौजूद लोगो का मन मोह लिया। मुख्य अतिथि जिलाधिकारी के. बालाजी का स्वागत स्मृति चिह्न देकर स्कूल के प्रबंधक अमिताभ सिंह और एवं पुष्प गुच्छ देकर प्रधानाचार्य डॉ. पीएन सिंह ने संयुक्त रूप से किया। जिलाधिकारी के. बालाजी ने विगत सत्र के उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया। विद्यार्थियों को पुरस्कृत करने के साथ ही मंच से अपने उद्बोधन के माध्यम से जिलाधिकारी ने उनको प्रोत्साहित करने का कार्य भी किया। इस अवसर पर पी जी कालेज के प्राचार्य समर बहादुर सिंह, डॉ राजनारायण सिंह,गौरी शंकर अकादमी के राजेश्वर सिंह,कृषि वैज्ञानिक धर्मेन्द्र सिंह,नरेंद्र सिंह,कौसलेंद्र सिंह,संजीव सिंह, संजय पांडेय, विकास सिंह,त्रिनाथ मिश्र,सामुदायिक रेडियो के अमितेश सिंह के साथ बच्चों के अभिभावक  एवं अन्य मानिंद लोग भी मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();