गाजीपुर: आस्था और उत्साह के साथ मनाया गया महंत महामंडलेश्वर स्वामी भवानीनंदन यति का जन्मदिन - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: आस्था और उत्साह के साथ मनाया गया महंत महामंडलेश्वर स्वामी भवानीनंदन यति का जन्मदिन

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर बेसो नदी के तट पर स्थित सिद्धपीठ हथियाराम मठ के 26वें महंत महामंडलेश्वर स्वामी भवानी नन्दन यति जी महाराज का आविर्भाव दिवस शुक्रवार को समारोह पूर्वक मनाया गया। राधाष्टमी नक्षत्र पर आयोजित कार्यक्रम में शिष्य-श्रद्धालुओं ने आस्था और उत्साह के साथ गुरु महाराज का जन्मोत्सव मनाया। ब्राह्मणों ने वैदिक मंत्रोच्चार किया, तो कन्या पीजी कालेज की छात्राओं व शिक्षिकाओं ने गीता पाठ किया। श्रद्धालुओं ने गुरु महाराज का अर्चन-वंदन करते हुए उनके शतायु होने की कामना किया। 

कार्यक्रम के आरंभ में स्वामी भवानीनंदन यति ने अपने ब्रह्मलीन गुरु महाराज स्वामी बालकृष्ण यति की प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रज्जवलन किया। मौनी बाबा धाम चोचकपुर से पधारे महंत सत्यानन्द यति, देवरहा बाबा, डा. रत्नाकर त्रिपाठी समेत जंगीपुर के विधायक डॉ. वीरेन्द्र यादव, पूर्व मंत्री डॉ. रमाशंकर राजभर, कपिलदेव सिंह आदि ने उनका विभिन्न विधाओं से अभिनन्दन किया। साथ ही अपने उद्बोधन से उनकी महिमा का बखान करते हुए सिद्धपीठ और यहां के साधु-संतों की महत्ता का गुणगान किया। हर कोई उनके दीर्घजीवी और स्वस्थ होने की कामना किया। 

स्वामी भवानीनन्दन यति ने कहा कि संत-महात्माओं का चरण पकड़ने की बजाय यदि उनके आचरण को आत्मसात किया जाय तो निश्चित रूप से कल्याण होगा। उन्होंने कहा कि कर्मयोग के जरिये सिद्धपीठ की परम्पराओं का मर्यादा पूर्वक अनुपालन करते हुए इस मठ को चरम शिखर तक पहुंचाने का कार्य कर रहा हूं। उन्होंने योग और व्यायाम को  गुरुजनों की सिद्धस्थली में गुरुओं के पदचिन्हों पर चलकर अपनी मंजिल तक पहुंचना चाहता हूं। 

पीठाधिपति ने अपने आभिर्भाव दिवस पर जुटे लोगों का आह्वान किया कि हाथ उठाकर ईश्वर से प्रार्थना करें कि सच्चे हृदय से वह जिन सत्कर्मों को पूरा करने में लगे हैं, उसमें उन्हें मंजिल की प्राप्ति हो। इस मौके पर विशाल भंडारे का भी आयोजन किया गया, जिसमें महाप्रसाद ग्रहण कर लोग पुण्य के भागी बने। इस अवसर पर वैदिक विद्वान आचार्य सुरेश त्रिपाठी, जंगीपुर विधायक वीरेन्द्र यादव, डा. रत्नाकर त्रिपाठी, सुदामा विश्वकर्मा, प्रभुनाथ दूबे, जयप्रकाश त्रिपाठी, डा. संतोष मिश्रा, आनन्द मिश्रा, रमेश यादव, सर्वानन्द सिंह झुन्ना, हरिश्चन्द्र सिंह, लौटू प्रसाद, चंद्रशेखर सिंह सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित रहे। गायक बादल सिंह, शिखा, प्रवीण आदि कलाकारों ने भक्ति गीत व गुरु वंदना प्रस्तुत किया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad