गाजीपुरः सांड़ों के झुंड ने रोका 'चौरीचौरा' का रास्ता, पांच घंटे खड़ी रही ट्रेन, छह गाड़ियां हुईं प्रभावित - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुरः सांड़ों के झुंड ने रोका 'चौरीचौरा' का रास्ता, पांच घंटे खड़ी रही ट्रेन, छह गाड़ियां हुईं प्रभावित

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर गोरखपुर से अनवरगंज-कानपुर जा रही चौरीचौरा एक्सप्रेस का गुरुवार को रास्ता सांड़ों के कारण रोकना पड़ा। बारी-बारी से तीन सांड़ कटने के कारण ट्रेन को सादात-माहपुर स्टेशन के बीच अचानक रुकना पड़ा है। किसी तरह ट्रेन को बैक कर स्टेशन पर लाया गया। पांच घंटे तक स्टेशन पर ही खड़ी रहने के बाद लाइट इंजन लगाकर ट्रेन को आगे रवाना किया गया। हादसे के चलते आधा दर्जन ट्रेनों के परिचालन पर असर पड़ा।

गोरखपुर से कानपुर-अनवरगंज जा रही चौरीचौरा एक्सप्रेस को स्थानीय स्टेशन से रन-थ्रू गुजरने के लिए भोर में तीन बजकर 41 मिनट पर ग्रीन सिग्नल दिया गया था। सादात से गुजरने के दौरान उत्तरी केबिन से समता कालेज के सामने तक ट्रेन के आगे आने से बारी-बारी से तीन सांड़ कट गये। सांड़ के कटने के कारण इंजन के आगे लगे कैटर गार्ड टूटने के साथ ही इंजन का अगला हिस्सा काफी क्षतिग्रस्त हो गया। इससे होम सिग्नल पार करने के बाद ट्रेन अचानक सरैयां ताल में जाकर रुक गयी। 

चालक सत्येंद्र ने विभागीय अधिकारियों को घटना की जानकारी दी। कंट्रोल से सूचना के बाद समूचा स्टेशन स्टाफ हरकत में आ गया। स्टेशन मास्टर राजनारायण प्रसाद ने गार्ड और ड्राइवर से वाकी-टाकी से सम्पर्क कर ट्रेन को बैक कराकर स्टेशन पर मंगवाया। प्लेटफार्म दो पर ट्रेन को खड़ा कराने के बाद कंट्रोल के जरिये लाइट इंजन की व्यवस्था करायी गयी। सुबह 8.48 बजे लाइट इंजन को जोड़कर ट्रेन को आगे रवाना करने योग्य बनाया गया। इस दौरान यात्रियों ने स्टेशन कक्ष में घुसकर हंगामा भी किया। हादसे के कारण मोतिहारी से मंडुवाडीह जाने वाली बापूधाम एक्सप्रेस का रन-थ्रू सिग्नल कैंसिल कर यहां रोका गया। इसमें चौरीचौरा एक्सप्रेस के यात्रियों को बैठाकर वाराणसी के लिए रवाना कराकर किसी तरह उनका गुस्सा शांत कराया गया। इसके बाद 9.01 बजे चौरीचौरा को भी रवाना किया गया। 

हादसे के कारण डाउन और अप की करीब आधा दर्जन ट्रेनों को रोकना पड़ा। माहपुर में इंटरसिटी एक्सप्रेस तो जखनियां में 55149 पैसेंजर और दुल्लहपुर स्टेशन पर तमसा पैसेंजर रुकी रही। लिच्छवी एक्सप्रेस, बापूधाम एक्सप्रेस का परिचालन भी प्रभावित हुआ। सुबह 8.50 बजे बापूधाम एक्सप्रेस के आगे जाने के बाद 9.01 बजे चौरीचौरा एक्सप्रेस को आगे बढ़ाया गया। इस बीच एक नम्बर प्लेटफार्म से वाराणसी की तरफ रवाना की गयी 55149 पैसेंजर और 12537 बापूधाम एक्सप्रेस को पकड़कर चौरीचौरा एक्सप्रेस के सैकड़ों यात्री वाराणसी की तरफ रवाना हुए।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad