Breaking News

गाजीपुर: सादात में मिला आजमगढ से लापता मां-बेटी का शव

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर आजमगढ़ जिले के मेहनाजपुर थाना क्षेत्र के ढकवा निवासिनी मां और बेटी शनिवार की रात से ही घर से लापता थी। रविवार की सुबह दोनों की लाश सादात थाना क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों पर मिली है। बेटी गजाला (19) की लाश सादात थाना क्षेत्र के मलौरा स्थित एक कॉलेज के सामने पानी से भरे गड्ढे में मिली तो मां नूरन (45) का शव मेहनाजपुर के ढकवा स्थित घर से थोड़े ही दूर धान के खेत में मिली। घटना की जानकारी पाकर सादात और मेहनाजपुर थाने की पुलिस के साथ ही सैदपुर के सीओ ने मौके पर पहुंचकर घटना से जुड़ी जानकारी ली। पुलिस ने दोनों ही शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

सादात थाना क्षेत्र के मलौरा के ग्रामीणों ने गांव स्थित कालेज के सामने दो फिट गहरे गड्ढे में भरे पानी में एक लड़की का शव देखा। ग्रामीणों की सूचना पर सादात के उप निरीक्षक केपी सिंह के साथ ही इंस्पेक्टर रविन्द्र भूषण मौर्य भी मौके पर पहुंचे। आस-पास के लोगों की मदद से उसकी शिनाख्त पड़ोसी जनपद आजमगढ़ के मेहनाजपुर थाना अंतर्गत ग्राम ढकवा निवासिनी गजाला (19) के रूप में कई गयी। उसका पिता नेसार दुबई में रहकर नौकरी करता है। सादात पुलिस ने जब मेहनाजपुर थाने की पुलिस समेत परिजनों को इसकी जानकारी दी। मृतका दो भाई व तीन बहनों में सबसे बड़ी थी। 

उसकी छोटी बहनों ने पुलिस को बताया कि रात 11 बजे के करीब उसकी बड़ी बहन के मोबाइल पर किसी का फोन आने के बाद वह घर से बाहर निकली। उसके पीछे-पीछे ही मां नूरन (45) भी निकली। रात से ही दोनों लापता हैं। इसके बाद पुलिस उसकी मां नूरन की तलाश करने लगी। बाद में उसका शव घर से पचास मीटर दूर धान के खेत में मिला। बताते हैं कि मृतक युवती का मामा यहीं साथ रहता था, जो एक सप्ताह से अपने घर चला गया था। पुलिस हर पहलू को ध्यान में रखते हुए छानबीन कर रही है। घटना से दोनों जनपदों में सनसनी फैल गयी। सीओ सैदपुर रामबहादुर सिंह भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने घटना से जुड़े विन्दुओं पर गहनता से छानबीन किया। पुलिस ने दोनों ही शव को पीएम के लिए भेज दिया। घटना को लेकर तरह तरह की चर्चाएं की जा रही हैं। कोई इसे आशनाई से जुड़ा बता रहा है तो कोई कुछ और बता रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();