Breaking News

गाजीपुर: अब एक सप्ताह बाद हमीद सेतु पर फर्राटा भर सकते हैं बड़े वाहन

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर बीते दो माह पूर्व क्षतिग्रस्त हमीद सेतु के एप्रोच की मरम्मत का कार्य रविवार को वाराणसी एनएचएआई के वरिष्ठ इंजीनियर देवराज शर्मा की देखरेख में पूरा कर लिया गया। अगर सब कुछ ठीकठाक रहा तो अगले एक सप्ताह में हमीद सेतु को आलाधिकारियों के निर्देश पर भारी वाहनों के लिए खोला जा सकता है।

बीते दिनों ज्वाइंटर की मरम्मत के बाद 21 नवंबर को हमीद सेतु को हल्के चार पहिया वाहनों के लिए खोल दिया गया था, जबकि 22 नवंबर को भारी वाहनों के लिए पुल को खोला जाना था। इसकी जानकारी होने पर दोनों तरफ भारी वाहनों की विभिन्न मार्गों पर जगह-जगह कतार लग गई थी, लेकिन जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक के द्वारा पुल को खोलने से पूर्व किए गए निरीक्षण में सुहवल थाना क्षेत्र की तरफ सेतु के क्षतिग्रस्त एप्रोच की स्थिति को देख मरम्मत पूरा किए बगैर पुल को भारी वाहनों के लिए सुरक्षात्मक दृष्टिगत खोलने का आदेश देने से इंकार कर दिया था। इसके बाद शनिवार को विभागीय अधिकारियों के द्वारा आनन-फानन में दोनों तरफ लगे लोहे के हाईटगेज बैरियर को हटवाकर शाम करीब पांच बजे भारी वाहनों का आवागमन शुरु करा दिया था। 

इसके बाद बड़े वाहन चालक खुशी के बीच सेतु पर फर्रा भरने लगे। इसी बीच करीब एक घंटा बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने किसी भी संम्भावित दुर्घटनाओं से बचने के लिए एप्रोच की मरम्मत होने तक पुन: भारी वाहनों के आवागमन पर रोक लगाने के साथ ही दोनों तरफ हटाए गए लोहे के हाईटगेज बैरियर को लगा दिया। इससे पुन: वाहन चालकों में निराशा व्याप्त हो गया था। इस संबंध में एनएचआई वाराणसी के वरिष्ठ इंजीनियर देवराज शर्मा ने बताया कि हमीद सेतु के क्षतिग्रस्त एप्रोच की मरम्मत पूरी कर ली गई है। इसे पकने के लिए करीब 48 घंटे का समय चाहिए। कहा कि शनिवार की देर शाम को हटाए गए लोहे के हाइट गेज बैरियर को दोबारा लगा दिया गया है ताकि किसी तरह की दुर्घटनाओं को टाला जा सके। उम्मीद जताई कि हमीद सेतु को भारी वाहनों के लिए करीब एक सप्ताह बाद खोला जा सकता है। इसकी जानकारी विभागीय आला-अधिकारियों को देने के साथ ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को दे दी गई है।

कोतवाल बोले, दूसरे मार्गों से चले जाए आप लोग
सुहवल। शनिवार की शाम हमीद सेतु पर बड़े वाहनों का संचालन शुरू होना था। इससे दोनों तरफ सैकड़ों की संख्या में चालक ट्रक लेकर खड़े रहे। शाम को करीब पांच बजे जैसे ही सेतु पर आवागमन शुरु हुआ, चालक ट्रकों को लेकर निकलने लगी। इसी बीच एक घंटा बाद ही फिर वाहनों के आवागमन पर रोक लगा दिया, जिससे दोनों तरफ बड़ी संख्या में चालक ट्रक लेकर खड़े और आवागमन सुचारू होने का इंतजार करते रहे। देर रात सदर कोतवाल धनंजय मिश्रा पुलिस कर्मियों के साथ पहुंचे। विभिन्न मार्गों पर खड़े ट्रक चालकों को ध्वनि विस्तारक यंत्र से कहा कि पुल पर आवागमन शुरू होने की संभावना नहीं है। इसलिए आप लोग दूसरे मार्गों से वापस चले जाइए।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();