गाजीपुर: स्कूल में पशुओं ने जमाया डेरा, गेट से ही घर लौटे बच्चे - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: स्कूल में पशुओं ने जमाया डेरा, गेट से ही घर लौटे बच्चे

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर मुहम्मदाबाद प्राथमिक विद्यालय सेमरा में गुरुवार की सुबह पढ़ने पहुंचे बच्चे वहां की स्थिति देख गेट पर ही ठिठक गए। स्कूल परिसर में दर्जनों बेसहारा पशुओं ने डेरा जमाया हुआ था और बाहर से गेट बंद था। इससे बच्चे व शिक्षक स्कूल के भीतर नहीं जा सके। काफी देर तक बाहर ही खड़े रहे। पता चला कि किसानों ने परेशान होकर पशुओं को स्कूल में बंद कर दिया है। काफी देर बाद भी कोई समाधान नहीं देख बच्चे लौट गए।

करीब डेढ़ माह पूर्व बाढ़ आने से सेमरा व अगल बगल के सिवानों में पानी फैलने से उसमें डूबकर मिर्च टमाटर, अरहर, बाजरा व धान की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई। काफी ऊंचे जगह पर जहां पानी नहीं पहुंच सका था वहां की फसलें ही बच पाई। बाढ़ से नुकसान झेलने के बाद किसान दोबारा मिर्च, टमाटर आदि की रोपाई किए लेकिन सिवान में घूम रहे बेसहारा पशु उनके लिए मुसीबत साबित हो रहे हैं। देर रात तक किसान सिवान में घूमकर अपने खेतों की रखवाली कर रहे हैं लेकिन मौका पाते ही ये खेतों में घुसकर फसलों को नष्ट कर दे रहे हैं। 

इस संबंध में किसान मनोज राय डब्लू, राघवेंद्र राय, काशीराम, हरिराम, जोगेंद्र राम, रमेश यादव, तुलसी पटेल आदि ने बताया कि सरकार की ओर से आवारा घूम रहे पशुओं के लिए कहने को तो गोवंश आश्रय स्थल की व्यवस्था की गई है लेकिन वह बेकार साबित हो रही है। आज पशु घूमकर हमारे फसलों को बर्बाद कर रहे हैं। किसान आज प्रकृति के साथ साथ पशुओं व शासन की व्यवस्था से जूझने को मजबूर है। मजबूरी में किसान पशुओं को विद्यालयों में बंद करने को बाध्य हैं। इस संबंध में ग्राम पंचायत शेरपुर के कार्यकारी ग्राम प्रधान चंद्रभूषण राय ने बताया कि पशुओं को रहने के लिए ब्लाक पर आश्रय स्थल का निर्माण कराया गया है। वह विद्यालय में बंद पशुओं को वाहन पर लादकर वहां भेजवाने की व्यवस्था में लगे हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad