Breaking News

गाजीपुर: बाल-बाल बची जनशताब्दी एक्सप्रेस; ट्रैकमैन की तत्परता से टला रेल हादसा हादसा

बाल-बाल बची जनशताब्दी एक्सप्रेस अधिकारियों में हड़कंप एक घंटा तक बाधित रहा रूट पर ट्रेनों का परिचालन लाल झंडा दिखाने पर चालक ने रोक दिया ट्रेन
गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर दिलदारनगर-उसिया स्टेशन के बीच डाउन लाइन में सुबह 8.37 बजे तूफान एक्सप्रेस गुजरने के बाद पोल संख्या 694/28 के पास रेल पटरी टूट गई। इसी दौरान ट्रैकमैन अनिरुद्ध की नजर टूटी पटरी पर पड़ी तभी सामने से आ रही मंडुवाडीह - पटना जनशताब्दी एक्सप्रेस को लाल झंडा दिखाया तो चालक ने कुछ दूर पहले ही ट्रेन को रोक दिया। ट्रेन के पायलट ने वाकी-टाकी से इसकी जानकारी दिलदारनगर स्टेशन को दी। वहां से सूचना को दानापुर नियंत्रण कक्ष और स्थानीय रेल पथ विभाग को दी गई। 

सहायक रेल पथ निरीक्षक निर्मल कुमार कर्मचारियों को लेकर ट्राली से मौके पर पहुंचे। रेल पटरी को 9.30 बजे दुरुस्त किया गया। इसके बाद जनशताब्दी एक्सप्रेस आगे की ओर रवाना हुई। इस दौरान सिकन्दराबाद समर स्पेशल, गोहाटी दादर एक्स, मेमो पैसेंजर व ताड़ीघाट पैसेंजर ट्रेन विभिन्न स्टेशनों पर खड़ी रही। रेल पथ निरीक्षक अखिलेश्वर प्रसाद ने बताया कि उसिया स्टेशन से पहले टूटी रेल पटरी को दुरुस्त कर दिया गया है।

काशन 30 से गुजरी ट्रेनें
दिलदारनगर - उसिया स्टेशन के बीच पटरी टूटने के कारण डाउन लाइन से जाने वाली ट्रेनों को रेल पटरी बदले जाने तक काशन 30 किमी की रफ्तार में चलाया जाएगा। रेल पटरी बदलने के बाद डाउन लाइन की ट्रेन पूरे रफ्तार में चलेंगी।

दो घंटा देरी से पहुंची डीटी पैसेंजर
रेल पटरी टूटने के कारण दिलदारनगर से ताड़ीघाट को जाने वाली डिटी पैसेंजर ट्रेन नियत समय सुबह आठ के बजाय सवा दो घंटा देर 10.15 बजे दिलदारनगर पहुंची। इसके चलते जिला मुख्यालय को जाने वाले लोगों को परेशानी झेलनी पड़ी।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();