गाजीपुर: बनाए गए परीक्षा केंद्र व 699 आपत्तियों की होगी जांच - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: बनाए गए परीक्षा केंद्र व 699 आपत्तियों की होगी जांच

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर शासन की ओर से नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए ऑनलाइन परीक्षा केंद्र बनाए गए। इसके बाद भी केंद्र निर्धारण में तमाम त्रुटियां इसे बल दे रही हैं। विगत वर्ष की परीक्षा में एसटीएफ की जांच में नकल करते पकड़े गया विद्यालय भी परीक्षा केंद्र बनाए गए है, वहीं पुराने एडेड विद्यालयों व विगत वर्ष बने केंद्रो की अनदेखी कर नए विद्यालयों को केंद्र बनाया गया है। वर्ष 2020 की बोर्ड परीक्षा के लिए कुल 215 केन्द्र बनाया गया है। जनपद में पिछली बार की अपेक्षा 74 केंद्र कम बनाये गये हैं, जबकि पिछले बार बने केंद्रो में से 103 विद्यालयों का नाम काट दिया गया है, 29 नये विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। इस बार हाईस्कूल में कुल एक लाख 77 हजार 601 परीक्षार्थी पंजीकृत है। पिछली बार से 2641 कम हैं। वहीं इंटरमीडिएट में 92 हजार आठ सौ पैंतालिस छात्र-छात्राएं पंजीकृत है। पिछली बार से 4449 परीक्षार्थी कम हैं। वहीं परीक्षा केन्द्र निर्धारण के लिए बोर्ड की ओर से जारी गाइड लाइन में स्पष्ट निर्देश दिया गया है, जिसमें काली सूची वाले विद्यालयों को सेंटर नहीं बनाया जाना चाहिए।

वहीं परीक्षार्थियों की संख्या के बढ़ने पर पुराने एडेड विद्यालयों को वरीयता दी जायेगी, जिन्हें पिछले वर्ष छात्र संख्या कम होने के कारण केंद्र नहीं बनाया गया था। वहीं परीक्षा केंद्रो में बदलाव लेकर विद्यालयों की ओर से 699 आपत्तियां दी गई है। जिसमें कई लगभग दो सौ विद्यालयों की ओर से परीक्षा केंद दूर बनाए जाने को लेकर है। जिला विद्यालय निरीक्षक ओपी राय का कहना रहा कि बोर्ड की गाइड लाइन का यथासंभव पालन हुआ है। अनिवार्य परिस्थितियों में ही इससे इतर फैसला लिया गया है, वह भी इसीलिए ताकि नकल विहीन परीक्षा हो सके।

नकल रोकने के लिए विभाग पूरी तरह संकल्पित हैं। विद्यालय के प्रधानाचार्यो की ओर से केंद्रों को लेकर 699 आपत्तियां दी गई है, जिसमें दो सौ विद्यालयों की ओर से परीक्षा केंद्र दूर बनाए जाने को लेकर प्रार्थना-पत्र दिया गया है। जिला विद्यालय निरीक्षक डा. ओपी राय ने बताया कि जनपद में बनाए गए परीक्षा केंद्रो की जांच एसडीएम की ओर से कराई जा रही है। वहीं विद्यालयों के प्रबंधकों की ओर से दिए गए प्रार्थना-पत्रों को भी तहसील पर भेज दी गई है। जांच रिपोर्ट आने के बाद जिला समिति की बैठक होगी। रिपोर्ट के आधार पर केंद्र निर्धारण पर समीक्षा की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad