Breaking News

गाजीपुर: ट्रेन के लिए चल रहे आंदोलन को गजब का समर्थन

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर सुहेलदेव, गाजीपुर बांद्रा व माता वैष्णो देवी कटरा एक्सप्रेस के बलिया से संचालन के प्रस्ताव के विरोध, जिला एवं रेल प्रशासन द्वारा कोई जवाब न दिए जाने के खिलाफ सिटी स्टेशन पर चल रहे क्रमिक अनशन को दिन-प्रतिदिन और संबल मिलता जा रहा है। चौथे दिन रविवार को स्वर्णकार संघ ने भी अपना समर्थन दिया। अब तक तमाम संगठन इसके समर्थन में आ चुके हैं, जबकि इसके पहले आंदोलन के क्रम में 10 हजार से अधिक लोग हस्ताक्षर अभियान से जुड़ चुके थे। प्रदर्शनकारियों ने चेतावनी दी कि उनकी मांगें पूरी होने तक उनका धरना-प्रदर्शन जारी रहेगा। वक्ताओं ने हुंकार भरा कि किसी भी कीमत पर हम ट्रेन को यहां से जाने नहीं देंगे।

ट्रेन को बलिया चलाए जाने के प्रस्ताव पर शम्मी के नेतृत्व में चल रहे आंदोलन को न सिर्फ सराह रहे हैं बल्कि इससे बड़ी तादात में लोग नित जुटते जा रहे हैं। लोगों का कहना है कि ट्रेन के यहां से चले जाने से हर किसी को दिक्कत होगी। ऐसे में हम सभी का कर्तव्य है कि इस आंदोलन को मुकाम तक पहुंचाएं। स्वर्णकार संघ के जिलाध्यक्ष संतोष कुमार वर्मा ने कहा कि राजनीतिक द्वेषवश षडयंत्र के तहत बलिया सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त द्वारा गाजीपुर से ट्रेनों को हटाने का प्रस्ताव दिया जा रहा है जिसको हम सभी व्यापारी व जनपदवासी कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। 

व्यापारियों को बड़े महानगरों में व्यापार के सिलसिले में तत्काल जाना होता है लेकिन अगर ट्रेनों का परिचालन गाजीपुर से नहीं होगा तो कोटा न होने के चलते रिजर्वेशन की मुश्किलों का सामना हम व्यापारियों को करना होगा। जनरल बोगी के डिब्बे भी पहले से भरकर आएंगे जिसके चलते बिना रिजर्वेशन वाले आर्थिक रूप से कमजोर लोगों का यात्रा करना दुश्वार हो जायेगा। क्रमिक अनशन का नेतृत्व करते हुए विवेक कुमार सिंह शम्मी ने कहा कि जब तक इन ट्रेनों के परिचालन के संबंध में रेलवे प्रशासन व जिला प्रशासन द्वारा इन ट्रेनों के चलते रहने की स्थिति स्पष्ट नहीं की जाती है तो तब तक ये आन्दोलन अनिश्चितकालीन व अनवरत चलता रहेगा। क्रमिक अनशन में शुभम वर्मा, प्रभु वर्मा, रामचन्द्र गुप्ता, बृजेश राय, मोहम्मद परवेज, शशांक उपाध्याय, अजय गुप्ता, सत्येन्द्र कुशवाहा आदि थे।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();